दिल्ली पुलिस पर कथित रूप से एक घोषित अपराधी को नग्न कर उसकी परेड निकालने का आरोप लगा है. पिछले हफ्ते इंद्रपुरी इलाके में हुई इस घटना का वीडियो अब सार्वजनिक हुआ है. टाइम्स ऑफ इंडिया के मुताबिक पीड़ित पुलिस की गिरफ्त से भागने की कोशिश में था. इसके बाद पुलिस ने उसे सबक सिखाने के लिए उसे पूरी तरह नग्न कर दिया और उसकी परेड निकाली. हालांकि पुलिस ने इससे इनकार किया है.

जिस व्यक्ति की कथित परेड निकाली गई उसका नाम वीरेंदर बताया जा रहा है. उस पर लूट और शराब की अवैध बिक्री के मामले दर्ज हैं. पुलिस उसे गिरफ्तार करने उसके घर पहुंची थी. लेकिन वीरेंदर ने भागने की कोशिश की. उस समय उसने केवल तौलिया पहना हुआ था जो इस दौरान उतर गया. इस घटना के दूसरे वीडियो में पुलिसकर्मी उसे बिना कपड़ों के ही इलाके से ले जाते दिख रहे हैं. उधर, वीरेंदर के घरवालों का आरोप है कि पुलिस ने बदला लेने के लिए वीरेंदर को कपड़े नहीं पहनने दिए. उसकी पत्नी ने बताया कि उसने और वीरेंदर की बहन ने पुलिसवालों से अपील की थी कि वे उसे कपड़े पहनने दें लेकिन उन्होंने परवाह नहीं की. उन्होंने यह भी कहा कि पुलिस ने जानबूझकर वीरेंदर को लंबे रास्ते से निकाला.

हालांकि दिल्ली पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों ने इससे इनकार किया है. उनका कहना है कि पुलिस ने वीरेंदर को कपड़े दिए थे, लेकिन पकड़े जाने के बाद तमाशा करने के लिए उसने कपड़े नहीं लिए. उन्होंने बताया कि वीरेंदर पर अतिक्रमण का मामला दर्ज है. दिल्ली पुलिस के मुख्य प्रवक्ता और विशेष पुलिस आयुक्त दीपेंदर पाठक ने कहा, ‘उसके खिलाफ गैर-जमानती वॉरंट था. हमें देखते ही उसने भागने की कोशिश की. इसी दौरान उसका तौलिया गिर गया. हमने उसे पकड़ा और वैन में ले गए. वहां उसे कपड़े दिए गए.’