भारत में सबसे ज्यादा स्मार्टफोन बेचने वाली कंपनी शाओमी अब एक नए क्षेत्र में कदम रखने जा रही है. शाओमी भारत में ‘एमआई क्रेडिट सर्विस’ नाम से एक नई सेवा शुरू कर रही है जिसके जरिए लोगों को लोन दिया जाएगा. कंपनी से जुड़े अधिकारियों के मुताबिक यह लोन सर्विस पेशेवर युवाओं को ध्यान में रखकर शुरू की गई है और इसके लिए कंपनी ने इंस्टेंट लोन सर्विस प्लेटफॉर्म ‘क्रेडिटबी’ के साथ साझेदारी की है.

शाओमी की ओर से यह भी बताया गया है कि इस सर्विस का लाभ वे लोग ही उठा सकते हैं जिनके स्मार्टफोन में एमआईयूआई ओएस है. एमआईयूआई शाओमी का अपना ‘यूजर इंटरफ़ेस’ प्लेटफॉर्म है, जो एंड्रॉइड ऑपेरटिंग सिस्टम पर आधारित है. ये शाओमी के स्मार्टफोन्स के साथ-साथ सैमसंग, सोनी, एचटीसी, बीएलयू और वनप्लस के भी कुछ स्मार्टफोन्स पर उपलब्ध है. एमआईयूआई प्लेटफॉर्म के जरिए शाओमी अपने यूजर्स को नोट्स, बैकअप, म्यूजिक, वीडियो और गैलरी जैसे अपने खुद के एप मुहैया कराती है.

खबरों के मुताबिक एमआईयूआई यूजर्स को एमआई लोन सर्विस के लिए इस प्लेटफॉर्म पर लॉगिन करना पड़ेगा. लॉगिन करने के बाद एमआई क्रेडिट उन एजेंटों को सूची दिखायेगा जो यूजर को लोन उपलब्ध करवाएंगे. हालांकि, इसके लिए यूजर को अपने पैन कार्ड और आधार की जानकारी ‘क्रेडिटबी’ को देनी होगी. क्रेडिटबी के द्वारा सत्यापन के बाद यूजर को लोन की धनराशि दी जाएगी.

शाओमी के द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक कोई भी यूजर एमआई क्रेडिट के जरिए एक हजार रुपए से लेकर एक लाख रुपए तक के लोन के लिए आवेदन कर सकता है. यह लोन 15 से 90 दिनों के लिए तीन फीसदी की दर पर दिया जाएगा और यह रकम सीधे यूजर के बैंक अकाउंट में जाएगी. कंपनी का यह भी कहना है कि आवेदन करने के दस मिनट के अंदर ही यह लोन यूजर के लिए उपलब्ध हो जाएगा.