पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम को सीबीआई ने पूछताछ के लिए समन भेजा है. उन्हें छह जून को जांच एजेंसी के सामने हाजिर होना होगा. पी चिदंबरम को यह समन आईएनएक्स मीडिया केस के सिलसिले में भेजा गया है. 2007 के इस मामले में आरोप है कि वित्त मंत्री रहते हुए उन्होंने अपने पद का दुरुपयोग किया और आईएनएक्स मीडिया नाम की कंपनी में विदेशी निवेश को गलत तरीके से मंजूरी दिलवाई.

गुरुवार को ही दिल्ली हाई कोर्ट ने इस मामले में पी चिदंबरम को गिरफ्तारी से तीन जुलाई तक राहत दी थी. पूर्व वित्त मंत्री ने अदालत में आशंका जताई थी कि पूछताछ के बाद सीबीआई उन्हें गिरफ्तार कर सकती है. हाई कोर्ट ने उनसे कहा था कि वे जांच में सहयोग दें और जब भी सीबीआई बुलाए, हाजिर हों.

इसके एक ही दिन पहले पी चिदंबरम को एयरसेल मैक्सिस डील केस में भी गिरफ्तारी से राहत मिली थी. दिल्ली के पटियाला हाउस कोर्ट ने आदेश दिया था कि इस मामले में पूर्व वित्तमंत्री को पांच जून तक गिरफ्तार न किया जाए. उसी दिन इस मामले की अगली सुनवाई भी है. इस मामले की जांच प्रवर्तन निदेशालय कर रहा है. 2007 के इस मामले में भी पी चिदंबरम पर वित्त मंत्री रहते हुए अपने पद का दुरुपयोग करने का आरोप है.