अमेरिका के रक्षा मंत्री जेम्स मैटिस ने कहा है कि उत्तर कोरिया जब तक परमाणु निरस्त्रीकरण की दिशा में कोई ठोस कदम नहीं उठाता, तब तक उस पर लगी पाबंदियों में कोई ढील नहीं दी जाएगी. मैटिस ने सिंगापुर में एशियाई सुरक्षा शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेने के बाद जापान और दक्षिण कोरिया के रक्षा मंत्रियों के साथ बैठक के दौरान यह बात कही है. मैटिस का कहना था, ‘हम सभी उत्तर कोरिया पर संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद द्वारा लगाई गई पाबंदियों का पालन तब तक करते रहेंगे जब तक उत्तर कोरिया अपने परमाणु हथियारों को खत्म करने के लिए कोई ठोस और अपरिवर्तनीय कदम नहीं उठाता.’

इससे पहले शनिवार को एशियाई सुरक्षा शिखर सम्मेलन में जेम्स मैटिस ने ये भी कहा था कि डोनाल्ड ट्रंप और किम जोंग उन के बीच सिंगापुर में होने वाली वार्ता के दौरान कोरियाई प्रायद्वीप से अमेरिकी सेना को हटाने पर चर्चा नहीं की जाएगी. मैटिस के मुताबिक दोनों कोरियाई देशों की सीमा पर अमेरिकी सैनिकों की तैनाती का उत्तर कोरिया से कोई लेना देना नहीं है, यह अमेरिका और दक्षिण कोरिया के बीच का मामला है. हालांकि, अमेरिकी रक्षा मंत्री का यह भी कहना था कि अगर उत्तर कोरिया की ओर से खतरा कम होता है और विश्वास बहाली होती है तो अमेरिका और दक्षिण कोरिया सेना हटाने पर विचार कर सकते हैं.