कर्नाटक के मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी बीते 15-20 दिनों से पूरे देश में सुर्ख़ियां बटोर रहे हैं. इसी बीच उनके साथ ही एक छोटे कुमारस्वामी भी चर्चा में आए हैं. इनकी उम्र अभी बस दो-चार दिन की ही है.

द हिंदू के मुताबिक बीते शुक्रवार सुबह की बात है. कचरा बीनने वाले एक व्यक्ति ने देखा कि कचरे के ढेर में प्लास्टिक बैग से लिपटा एक नवजात बच्चा पड़ा हुआ है. उसने पास के दुकानदार को बताया जिसने तुरंत पुलिस नियंत्रण कक्ष को सूचना दी. इसके बाद इलेक्ट्रॉनिक सिटी पुलिस के उपनिरीक्षक नागेश आर अपनी टीम के साथ मौके पर पहुंचे. उन्होंने देखा कि बच्चा बेहद ख़राब हालत में है. गर्भनाल उसके गले में लिपटी हुई है.

नागेश तुरंत उसे नज़दीकी अस्पताल ले गए. वहां डॉक्टरों ने उसका मुफ़्त में इलाज किया. इसके बाद जब पुलिस टीम उस बच्चे को लेकर थाने पहुंची तो उसे भूख से बेज़ार देख महिला सिपाही अर्चना का दिल पसीज गया. उन्होंने अभी तीन महीने पहले ही अपने बेटे को जन्म दिया था. उस अनाथ बच्चे को देखकर उनकी ममता जाग उठी और उन्होंने उसे भी अपना दूध पिलाने में ज़रा सी देर नहीं लगाई. इस तरह उसे नई ज़िंदगी नसीब हुई.

नागेश तुरंत उस बच्चे के लिए कपड़े लेकर आए. इसके बाद राज्य के मुख्यमंत्री कुमारस्वामी के नाम पर उसका नामकरण किया गया और आगे लालन-पालन के लिए होसुर रोड स्थित शिशु मंदिर (अनाथालय) में पहुंचा दिया गया. द हिंदू से बातचीत में नागेश कहते हैँ, ‘हमने उसका नाम कुमारस्वामी इसलिए रखा क्योंकि अब वह सरकार की संतान है. उसकी देखरेख का जिम्मा अब कुमारस्वामी की सरकार का है.’