नवंबर, 2016 के दौरान जम्मू-कश्मीर के नगरौटा स्थित सेना के कैंप पर हुए आतंकवादी हमले के मामले में राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने एक और आरोपित को गिरफ्तार कर लिया है. समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक मंगलवार को गिरफ्तार किए गए इस आरोपित की पहचान अशिक बाबा के तौर पर की गई है और वह श्रीनगर के अल्लोची बाग का रहने वाला है.

इस आतंकवादी हमले के मामले में अब तक कुल तीन गिरफ्तारियां की जा चुकी हैं. इससे पहले पिछले हफ्ते एनआईए के जांच दल ने राज्य के पुलवामा जिले से एक लकड़ी व्यापारी तारिक अहमद डार को गिरफ्तार किया था. पूछताछ के दौरान तारिक ने बताया था कि नगरौटा हमले को आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने अंजाम दिया था. हालांकि तारिक से पहले एनआईए इस मामले में जैश-ए-मोहम्मद के सदस्य मुनीर-उल-हसन कादरी को गिरफ्तार कर चुकी थी.

नगरौटा के सेना कैंप पर उस हमले को तीन आतंकवादियों ने अंजाम दिया था. हमले के दौरान इन्होंने सैनिकों के परिवारों को बंधक बनाने की कोशिश भी की थी पर इसमें उन्हें कामयाबी नहीं मिल पाई थी. उधर जवाबी कार्रवाई में सेना ने सभी आतंकियों को मार गिराया गया था. वहीं इस दौरान सेना के सात जवान शहीद हो गए थे और तीन अन्य जवान घायल भी हुए थे. सेना ने इन आतंकियों के पास से भारी मात्रा में गोला-बारूद भी बरामद किया था.