सपेन में नई सरकार ने कामकाज़ संभाला है. प्रधानमंत्री पेद्रो सांचेज की यह सरकार यूरोपीय संघ समर्थक है और शायद महिला समर्थक भी क्याेंकि इसमें 60 फ़ीसदी से अधिक मंत्री पद महिलाओं को दिए गए हैं. इस तरह महिलाओं की इतनी भागीदारी वाली यह स्पेन ही नहीं संभवत: दुनिया की पहली सरकार हो सकती है.

बीबीसी के मुताबिक सांचेज सरकार में 18 में से 11 मंत्री पद महिलाओं को दिए गए हैं. कम से कम स्पेन के इतिहास में तो यह पहली बार ही हुआ है जब इस तादाद में महिलाओं को मंत्री पद दिए गए हों. इन महिला मंत्रियों के पास क़रीब-क़रीब सभी अहम विभाग हैं. जैसे- रक्षा, वित्त, शिक्षा, अर्थव्यवस्था आदि. इनके अलावा एक पूर्व अंतरिक्ष महिला वैज्ञानिक को विज्ञान विभाग का मंत्री भी बनाया गया है. ख़बर के मुताबिक दुनिया के चंद देश ही हैं कि जहां सरकार में महिलाओं को 50 फ़ीसदी से ज़्यादा भागीदारी मिली हुई है. इनमें फ्रांस, स्वीडन और कनाडा की सरकारें शामिल हैं.

ग़ौरतलब है कि स्पेन में पिछले सप्ताह ही तत्कालीन प्रधानमंत्री मारियानो राखोय को भ्रष्टाचार के आरोपों के कारण अपने पद से इस्तीफ़ा देना पड़ा था. इसके बाद 46 वर्षीय पेद्रो सांचेज ने प्रधानमंत्री पद संभाला है. हालांकि 350 सदस्यों वाली संसद में उनकी पार्टी के पास सिर्फ़ 84 ही सीटें हैं. संभवत: इसी को ध्यान में रखते हुए उन्होंने अपनी पार्टी से बाहर के लोगों को भी सरकार में शामिल किया है. हालांकि फिर भी माना जा रहा है कि उन्हें संसद से विधेयक पारित कराने में दिक्कतें हो सकती हैं. इसके अलावा उन्होंने दो साल के भीतर चुनाव कराने का भी वादा किया है. यह भी एक चुनौती है.