केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा है कि जम्मू-कश्मीर में अंतरराष्ट्रीय सीमा व नियंत्रण रेखा से शून्य से दस किलोमीटर तक के हिस्से की सुरक्षा के लिए अलग से दो बटालियन तैयार की जाएंगी. राज्य के दौरे पर गए राजनाथ सिंह ने इसके साथ सात और बटालियनों के गठन की घोषणा की है.

इन रिजर्व बटालियनों में पांच हजार से ज्यादा नियुक्तियां की जाएंगी. केंद्रीय गृह मंत्री के मुताबिक 60 फीसदी नियुक्तियों को अंतरराष्ट्रीय सीमा से दस किलोमीटर तक के दायरे में रहने वाले इलाकों के लोगों के लिए आरक्षित रखा जाएगा. द इकॉनॉमिक टाइम्स की एक रिपोर्ट के मुताबिक इन सात बटालियनों में दो महिला बटालियन भी होंगी. इनमें से एक की तैनाती जम्मू और दूसरी की कश्मीर इलाके में की जाएगी.

केंद्रीय गृह मंत्री दो दिनों की यात्रा पर गुरुवार को जम्मू-कश्मीर पहुंचे थे. इस दौरान केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल और जम्मू-कश्मीर पुलिस के उच्च अधिकारियों के साथ हुई बैठक में उन्होंने भारत-पाकिस्तान सीमा पर ताजा हालात और सुरक्षा-व्यवस्था की समीक्षा भी की है. इस बीच पत्रकारों से बातचीत करते हुए गृह मंत्री ने कहा है कि केंद्र सरकार जम्मू-कश्मीर में शांति बहाल करने के मिशन पर है और इस काम में किसी तरह की कोई अड़चन नहीं आने दी जाएगी.