उत्तर प्रदेश पुलिस ने बॉलीवुड अभिनेता नवाजुद्दीन सिद्दीकी के भाई अयाजुद्दीन सिद्दीकी के खिलाफ धार्मिक भावनाएं आहत करने का मामला दर्ज किया है. हिंदू युवा वाहिनी (एचवाईवी) की शिकायत पर यह मामला दर्ज किया गया है. पीटीआई के मुताबिक हिंदू युवा वाहिनी का आरोप है कि अयाजुद्दीन सिद्दीकी ने फेसबुक पर भगवान शिव की आपत्तिजनक तस्वीर डालकर हिंदुओं की धार्मिक भावनाओं को आहत किया है.

मामला दर्ज करवाने से पहले सोमवार को एचवाईवी के कार्यकर्ताओं ने इस पोस्ट के खिलाफ मुजफ्फरनगर जिले के बुढाना में विरोध प्रदर्शन किया था. बुढ़ाना के सर्किल अधिकारी हरिराम यादव ने बताया है कि आईपीसी की धारा 153ए के तहत मामला दर्ज होने के बाद इसकी जांच शुरू कर दी गई है. नवाजुद्दीन मूल रूप से इसी कस्बे के हैं और उनका परिवार अब भी यहीं रहता है.

उधर, अयाजुद्दीन सिद्दीकी ने अपने ऊपर लगे आरोपों को खारिज करते हुए कहा है कि उन्होंने भगवान शिव की आपत्तिजनक तस्वीर देखकर उसका विरोध किया था. एएनआई से बात करते हुए उन्होंने बताया है, ‘मैंने उसका (आपत्तिजनक तस्वीर डालने वाले का) विरोध किया था और कहा था कि ऐसी तस्वीरें पोस्ट नहीं करनी चाहिए जो किसी की धार्मिक भावनाएं आहत करें. लेकिन यहां मेरे खिलाफ ही मामला दर्ज कर लिया गया.’ इसके साथ अयाजु्द्दीन ने भी अपने खिलाफ आरोप की जांच की मांग की है.

वहीं, पुलिस का कहना है कि वह इस बात की जांच करेगी कि आपत्तिजनक तस्वीर के लिए अयाजुद्दीन के फोन इस्तेमाल किया गया था या नहीं. एनडीटीवी के मुताबिक पुलिस ने कहा है, ‘उन्होंने (अयाजुद्दीन) निंदा करते हुए अपमानजनक तस्वीर पर टिप्पणी की थी. लेकिन हो सकता है कि टिप्पणी करते समय गलती से यह तस्वीर भी कॉपी हो गई हो.’