उत्तराखंड हाई कोर्ट के जज जस्टिस लोकपाल सिंह के खिलाफ अदालत की अवमानना का मामला दर्ज किया गया है. समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक वकील सीके शर्मा ने यह मामला दर्ज कराया है. उनका आरोप है कि जस्टिस लोकपाल सिंह ने वकीलों के खिलाफ अभद्र भाषा का इस्तेमाल किया. इनमें एक पूर्व जज और एक महिला वकील भी शामिल हैं.

खबर के मुताबिक जस्टिस लोकपाल सिंह ने सीके शर्मा और उनकी सहयोगी सोनिया से दुर्व्यवहार किया था. साथ ही उन्हें जेल भेजने की धमकी भी दी. सोमवार को उन्होंने सिंह के खिलाफ याचिका दायर कर दी. अमर उजाला के मुताबिक यह संभवत: पहला ही मामला है जिसमें हाईकोर्ट के किसी वर्तमान जज के खिलाफ अवमानना याचिका दाखिल की गई हो.

इससे पहले जनवरी में जस्टिस लोकपाल सिंह के व्यवहार के खिलाफ वकीलों ने उनका बहिष्कार भी किया था. लोकपाल सिंह कोर्ट नंबर सात में सुनवाई करते हैं. खबरों के मुताबिक विवाद तब खड़ा हुआ जब जस्टिस सिंह ने वकीलों के लिए गलत शब्दों का इस्तेमाल किया और उन पर दो लाख रुपए का जुर्माना ठोक दिया. इसके बाद उत्तराखंड बार एसोसिएशन ने कोर्ट नंबर सात का बहिष्कार करने का फैसला किया था. बाद में जस्टिस सिंह की तरफ से आश्वासन दिए जाने के बाद विरोध वापस ले लिया गया.