फुटबॉल विश्वकप- 2018 में बुधवार को खेले गए पहले मुकाबले में पुर्तगाल और मोरक्को की भिडंत हुई. इस मुकाबले में पुर्तगाल ने कप्तान क्रिस्टियानो रोनाल्डो ने चौथे मिनट में ही शानदार हेडर के जरिये गोल दागकर मोरक्को को दबाव में ला दिया. मैच का यह इकलौता गोल निर्णायक साबित हुआ. उधर इस हार के साथ ही मोरक्को का 2018 के विश्वकप का अभियान खत्म हो गया.

हालांकि शुरुआती क्षणों में ही एक गोल से पिछड़ने के बावजूद मोरक्को के खिलाड़ियों ने मैच के आखिर तक वापसी की कोशिशों में कोई कसर नहीं छोड़ी. पूरे मुकाबले के दौरान उन्हें गोल करने के कई मौके भी मिले लेकिन कुछ में उन्हें खुद कामयाबी नहीं मिली और कुछ को पुर्तगाल की रक्षा पंक्ति ने नाकामयाब कर दिया.

उधर इस मैच का इकलौता गोल दागने वाले रोनाल्डो के दम पर ही पुर्तगाल ने अपना पिछला मैच बचाया था. स्पेन के साथ हुए उस मुकाबले में रोनाल्डो ने शानदार हैट्रिक लगाते हुए स्कोर को 3-3 की बराबरी पर पहुंचाकर मैच ड्रॉ करा दिया था.

दिलचस्प बात यह भी है कि क्रिस्टियानो रोनाल्डो का इस विश्वकप में यह चौथा जबकि अंतरराष्ट्रीय फुटबॉल में 85वां गोल था. इस गोल के साथ रोनाल्डो अंतरराष्ट्रीय फुटबॉल में सर्वाधिक गोल करने वाले यूरोपीय खिलाड़ी बन गए हैं. इससे पहले यह रिकॉर्ड हंगरी के फेरेंक पुस्कास के नाम था. हालांकि अंतरराष्ट्रीय फुटबॉल में सबसे ज्यादा गोल करने का रिकॉर्ड अब भी ईरान के अली डेई के नाम पर है.