जम्मू-कश्मीर में रमज़ान के दौरान लागू किया गया एकतरफा युद्धविराम हटते ही आतंकियों के ख़िलाफ़ सुरक्षाबलों का अभियान तेज हो गया है. समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक शुक्रवार को अनंतनाग जिले में आतंकियों के साथ सुरक्षा बलों की मुठभेड़ में चार आतंकी मारे गए हैं. ये इस्लामिक स्टेट की जम्मू-कश्मीर शाखा (आईएसजेके) से जुड़े थे. मारे गए आतंकियों में आईएसजेके का सरगना दाऊद भी शामिल है.

ख़बरों के मुताबिक खीरम श्रीगुफारा में मुठभेड़ जारी है. इस बाबत जम्मू-कश्मीर के पुलिस महानिदेशक एसपपी वैद ने ट्वीट के जरिए बताया कि मुठभेड़ में एक पुलिसकर्मी और एक नागरिक की भी मौत हुई है. उन्होंने अपने ट्वीट में आतंकियों के आईएसजेके से जुड़े होने की भी पुष्टि की. बताया जाता है कि सुरक्षा बलों ने इलाके में आतंकियों के होने की सूचना के बाद उनकी तलाश के लिए सुबह अभियान शुरू किया था. इसी दौरान आतंकियों ने गोलीबारी शुरू कर दी.

ख़बरों की मानें तो मुठभेड़ में कई आम नागरिक भी घायल हुए हैं. ये वे लोग हैं जो सुरक्षाबलों को आतंकियों के ख़िलाफ़ कार्रवाई से रोकने के लिए पत्थरबाज़ी कर रहे थे. जानकारी के मुताबिक हालात की संवेदनशीलता को देखते हुए कश्मीर घाटी के तीन जिलों- अनंतनाग, श्रीनगर और पुलवामा में मोबाइल सेवा बंद कर दी गई है. पुलिस अधिकारियों ने बताया कि कानून-व्यवस्था बनाए रखने के लिए यह फैसला किया है.