हॉकी चैम्पियंस ट्रॉफी- 2018 का उद्घाटन मुकाबला शनिवार को भारत और पाकिस्तान के बीच खेला गया. नीदरलैंड्स के ब्रेडा में खेले गए इस मैच में भारत ने चिर-परिचित प्रतिद्वंदी पाकिस्तान को 4-0 से एक-तरफा मात दी है. दिलचस्प बात यह रही कि भारत की तरफ से तीन गोल मैच के आखिरी के दस मिनटों में किए गए. इससे पहले दोनों देशों की हॉकी टीमें इसी साल गोल्ड कोस्ट में कॉमनवेल्थ गेम्स के दौरान भिड़ी थीं, वह मुकाबला बराबरी पर छूटा था.

इधर, भारत ने इस मुकाबले की शुरुआत से ही आक्रामक खेल दिखाते हुए पाकिस्तान को दबाव में लाने की कोशिश की. पहले क्वार्टर में किए गए लगातार हमलों का फायदा भारत को एक पैनल्टी कॉर्नर के रूप में मिला, लेकिन पाकिस्तानी गोलकीपर की फुर्ती ने इस मौके को बढ़त में नहीं बदलने दिया.

दूसरे क्वार्टर की शुरुआत में भी भारत को पैनल्टी कॉर्नर मिला लेकिन इस बार भी भारत के हाथ नाकामयाबी ही लगी. फिर भी भारतीय हमले जारी रहे और इसी क्वार्टर के दसवें मिनट में रमनदीप ने शानदार गोल कर भारत को 1-0 से आगे कर दिया. तीसरे क्वार्टर में पाकिस्तानी टीम आक्रामक अंदाज में उतरी. दूसरे ही मिनट में पाकिस्तानी दल ने गेंद को भारतीय गोल में पहुंचा दिया पर टीवी रिव्यू के बाद इस गोल को रद्द कर दिया गया. इसके बाद इस क्वार्टर में कोई और गोल नहीं हुआ.

मुकाबला चौथे क्वार्टर में पहुंचा तो उस वक्त भी भारत 1-0 से आगे था. इस बढ़त को आठवें मिनट में दिलप्रीत ने दोगुना कर दिया. यहां से पाकिस्तान की वापसी की उम्मीदें काफी कम हो चुकी थीं. उधर, पाकिस्तानी उम्मीदों को करारा झटका देते हुए 11वें मिनट में मनदीप सिंह ने भारत के लिए तीसरा गोल दागकर प्रतिद्वंदी टीम को और पीछे धकेल दिया. मुकाबले के आखिरी मिनट में रमनदीप के शानदार पास पर ललित उपाध्याय ने चौथी बार गेंद को पाकिस्तानी गोल में पहुंचा दिया. इस तरह भारत ने 4-0 से यह मुकाबला जीत लिया.

भारत को अब तक चैम्पियंस ट्रॉफी उठाने में सफलता नहीं मिल पाई है. हालांकि इस शानदार आगाज के बाद टीम से उम्मीदें काफी बढ़ी हैं. इस प्रतियोगिता में भारत का अगला मुकाबला 24 जून को अर्जेंटीना के साथ होगा. इसके बाद वह 27 जून को ऑस्ट्रेलिया के साथ मिड़ेगा. 28 जून को बेल्जियम के खिलाफ खेलने के बाद भारतीय दल 30 जून को नीदरलैंड के खिलाफ मैदान पर उतरेगा.