नाइजीरिया में किसानों और चरवाहों के बीच हुई एक हिंसक झड़प में 86 लोगों की मौत हो गई. द टाइम्स आॅफ इंडिया के मुताबिक बीते हफ्ते गुरुवार को बारिकिन लादी नाम के एक इलाके में रहने वाले किसानों ने घूमंतू चरवाहों पर हमला कर दिया था. उस हमले में पांच चरवाहों की मौत हो गई. इसी बात का बदला लेने के लिए चरवाहों ने किसानों पर हमला किया जिसमें बड़ी संख्या में मौतें हुईं.

स्थानीय पुलिस आयुक्त के मुताबिक मारे गए लोगों के शव उनके परिवार वालों को सौंप दिए गए हैं. मौतों की संख्या की पुष्टि करते हुए उन्होंने कहा कि इस हिंसा में छह लोग घायल भी हुए हैं. उन्होंने आगे बताया कि वारदात के दौरान 50 घरों को फूंके जाने के साथ ही दर्जन भर से ज्यादा वाहन भी जला दिए गए. इलाके की सुरक्षा-व्यवस्था को नियंत्रण में रखने के लिए वहां कर्फ्यू लगा दिया गया है.

उधर, नाइजीरिया के राष्ट्रपति मुहम्मदु बुहारी ने इस घटना को दुखद और खेदजनक बताते हुए लोगों से शांति बरतने की अपील की है. उन्होंने यह भी कहा है कि हिंसा के दोषियों के खिलाफ कानून के मुताबिक कड़ी कार्रवाई की जाएगी. बताया जाता है कि नाइजीरिया में जमीन और दूसरे संसाधनों को लेकर किसानों और अन्य घूमंतू समूहों के बीच अक्सर हिंसा होती है. इस हिंसा का दशकों पुराना इतिहास रहा है जिसमें अब तक बड़े पैमाने पर लोग मारे गए हैं.