लंदन के मैडम तुसाद संग्रहालय में जल्दी ही योग गुरु बाबा रामदेव का पुतला दिखेगा. द टाइम्स आॅफ इंडिया के मुताबिक सोमवार को इस चर्चित संग्रहालय के 20 सदस्यीय एक दल ने करीब तीन घंटों तक विभिन्न कोणों से बाबा रामदेव के शरीर का माप लिया और उनकी अनेक तस्वीरें खींचीं. बताया गया है कि उनका पुतला ‘वृक्षासन’ की मुद्रा में बनाया जाएगा.

इस दौरान बाबा रामदेव के प्रवक्ता एसके तिजारावाला ने कहा, ‘करीब दो महीने पहले संग्रहालय के प्रतिनिधियों ने बाबा रामदेव से उनका प्रतिमा लगाने के लिए संपर्क किया था. शुरुआत में हिचक महसूस करने के बाद योग के प्रसार और प्रचार के हित में उन्होंने इसके लिए मंजूरी दे दी. हमें उम्मीद है कि देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के समीप उनकी प्रतिमा प्रदर्शित की जाएगी.’

बताया गया है कि बाबा रामदेव इस पुतले में भगवा रंग के कपड़ों के साथ खड़ाऊं (लकड़ी से बनी चप्पल) पहने हुए दिखाई देंगे. इसके साथ ही स्वामी विवेकानंद के बाद वे दूसरे ऐसे संत होंगे जिनका पुतला मैडम तुसाद संग्रहालय में लगेगा. बताया गया है कि लंदन में उनके पुतले का अनावरण किए जाने के बाद वैसा ही एक और पुतला दिल्ली स्थित मैडम तुसाद संग्रहालय में भी लगाया जाएगा.

मैडम तुसाद संग्रहालय की स्थापना 1835 में मोम शिल्पकार मेरी तुसाद ने की थी. यहां महात्मा गांधी, इंदिरा गांधी, राजीव गांधी के अलावा मौजूदा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अलावा क्रिकेट के दिग्गज खिलाड़ियों सचिन तेंदुलकर और विराट कोहली के भी पुतले हैं. इसके अलावा भारतीय सिने जगत से अमिताभ बच्चन, रजनीकांत, प्रभास और ऐश्वर्या राय जैसे अनेक हस्तियों की पुतले भी यहां देखे जा सकते हैं