तीन मैचों की टी-20 सीरीज के तीसरे मुकाबले में इंग्लैंड पर जीत दर्ज करके भारत ने यह सीरीज अपने नाम कर ली है. रविवार को ब्रिस्टल में खेले गए तीसरे मुकाबले में इंग्लैंड ने भारत के सामने जीत के लिए 199 रन का लक्ष्य रखा था जिसे भारतीय बल्लेबाजों ने आठ गेंदों के शेष रहते तीन विकेट खोकर हासिल कर लिया. क्रिकेट के टी-20 मुकाबलों की सीरीज के लिहाज से भारत की यह लगातार छठवीं जीत है.

इस मैच में टॉस जीतकर भारतीय कप्तान विराट कोहली ने मेजबान को पहले बैंटिंग के लिए आमंत्रित किया. सीरीज के शुरुआती दो मैचों में अपनी टीम को सधी शुरुआत दिला पाने में विफल रहे इंग्लैंड के सलामी बल्लेबाजों जोस बटलर और जेसन रॉय ने इस मैच में अपने विकेट बचाते हुए तेजी से रन बटोरे. पावर प्ले के छह ओवरों में ही दोनों बल्लेबाजों ने स्कोर 73 पर पहुंचा दिया था. खतरनाक होती इस जोड़ी को सिद्धार्थ कौल ने तोड़ा. कौल ने जोस बटलर का विकेट चटकाया. इसके कुछ ही देर बाद दीपक चहर ने जेसन रॉय को चलता कर दिया.

जल्दी-जल्छी दो विकेटों को खोने के बाद इंग्लैंड की तरफ से तेजी से रन बनाने की रफ्तार पर ब्रेक लगी. लेकिन जल्दी ही मेजबान बल्लेबाजों ने लय वा​पस हासिल कर ली. एलेक्स हेल्स, बेन स्टोक्स और जॉनी बेरेस्टो के योगदान से इंग्लैंड को निर्धारित 20 ओवरों में नौ विकेट के नुकसान पर 198 रन बनाने में कामयाबी मिली. भारत की तरफ से हार्दिक पंड्या ने सबसे ज्यादा चार विकेट चटकाए.

दस रन प्रति ओवर की औसत से रनों का पीछा करने उतरी भारत की शुरुआत अच्छी नहीं रही. तीसरे ओवर की पहली गेंद पर शिवर धवन लपक लिए गए. तब भारत का स्कोर सिर्फ 21 रन था. इसके बाद रोहित शर्मा ने केएल राहुल के साथ पारी आगे बढ़ाई. लेकिन राहुल भी 19 रन का व्यक्तिगत योगदान देकर पवेलियन लौट गए. दूसरी तरफ रोहित शर्मा ने तूफानी अंदाज में अपनी पारी जारी रखी. शर्मा ने पांच छक्कों और 11 चौकों की मदद से नाबाद सैकड़ा जमाया और हार्दिक पंड्या के साथ टीम को जीत दिलाकर ही मैदान से लौटे. शानदार शतक के लिए रोहित शर्मा को मैन आॅफ द मैच का पुरस्कार दिया गया.