पर्यावरण संरक्षण की दिशा में ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने मंगलवार को एक अहम फैसला किया है. इसके तहत इसी साल गांधी जयंती के मौके से प्रदेश में प्लास्टिक के इस्तेमाल पर प्रतिबंध शुरू हो जाएगा. साथ ही प्लास्टिक के इस्तेमाल पर यहां चरणबद्ध तरीके से रोक लगाई जाएगी. हाल-फिलहाल में प्लास्टिक पर प्रतिबंध लगाने का फैसला करने वाला ओडिशा तीसरा राज्य है. महाराष्ट्र में पिछले महीने प्लास्टिक के इस्तेमाल पर पाबंदी लगाई गई थी तो वहीं उत्तर प्रदेश में 15 जुलाई से ऐसी पाबंदी अमल में आएगी.

द इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक पहले चरण में दो अक्टूबर से भुवनेश्वर, कटक, बेरहामपुर, संबलपुर और राउरकेला जैसे शहरों में प्लास्टिक का इस्तेमाल प्रतिबंधित होगा. इसके बाद अगले दो वर्षों के भीतर पूरे राज्य में इसे प्रतिबंधित कर दिया जाएगा. प्लास्टिक से होने वाले प्रदूषण नियंत्रण कार्यों की निगरानी प्रदेश का वन एवं पर्यावरण विभाग करेगा. इसके अलावा प्लास्टिक का इस्तेमाल रोकने के आदेश को लागू कराने की जिम्मेदारी आवास और शहरी विकास विभाग के अलावा पंचायती राज विभाग को सौंपी गई है.