मुंबई और इसके उपनगरीय इलाकों में बीते पांच दिनों से हो रही मूसलाधार बारिश के दौरान भारतीय मौसम विभाग (आईएमडी) ने कोंकण में बाढ़ जैसे हालात पैदा होने की चेतावनी जारी की है. मौसम विभाग के मुताबिक मुंबई और आसपास के इलाकों में इकट्ठे हुए बारिश के पानी की जब अरब सागर की तरफ निकासी होगी तो कोंकण में बाढ़ जैसी स्थिति बन सकती है. ऐसे में 12 जुलाई तक के लिए कोंकण रेलवे, यहां के राजमार्गों और पुराने पुलों को लेकर विशेष सावधानी बरतने के लिए कहा गया है.

उधर, द टाइम्स आॅफ इंडिया ने लिखा है कि रविवार की सुबह 8.30 बजे से सोमवार सुबह 8.30 बजे के दौरान महाराष्ट्र के 23 अलग-अलग क्षेत्रों में 100 मिलीमीटर से भी ज्यादा की बरसात दर्ज की गई. महाराष्ट्र में पालघर जिले के दहानू में चौबीस घंटों के दौरान सबसे ज्यादा 354 मिलीमीटर बारिश हुई. इसी दौरान विरार में 276 जबकि वसई में 236 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई. 204.5 मिलीमीटर से ज्यादा बारिश को अत्यंत भारी बारिश की श्रेणी में शामिल किया जाता है. मौसम विभाग का यह भी कहना है कि मुंबई के निकटवर्ती इलाकों में भारी बारिश की यह स्थिति शुक्रवार तक बनी रहेगी.