पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज़ शरीफ को बेहतर श्रेणी की जेल में रखा जा सकता है. बशर्ते वे इसके लिए अर्ज़ी लगाएं. उनकी बेटी और दामाद को तयशुदा शर्तें पूरी करने पर बेहतर जेल की सुविधा दी जा सकती है.

ख़बरों के मुताबिक राजनेता और पूर्व सांसद होने के नाते आवेदन करने पर शरीफ को यह सुविधा मिल सकती है. बीते शुक्रवार को पाकिस्तान की अकाउंटबिलिटी कोर्ट ने भ्रष्टाचार एक मामले में नवाज़ शरीफ को 10 साल कैद की सजा सुनाई थी. साथ ही उनकी बेटी मरियम शरीफ को सात और दामाद (मरियम के पति) मोहम्मद सफदर को एक साल कैद की सजा सुनाई गई थी. यह फैसला आने के बाद मोहम्मद सफदर को इसी सोमवार को पाकिस्तान पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था. नवाज़ शरीफ और मरियम के इसी शुक्रवार को लंदन से पाकिस्तान पहुंचने की उम्मीद है. इन दोनों के पाकिस्तान पहुंचते ही इन्हें गिरफ्तार कर जेल भेजा जा सकता है.

द इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक नवाज शरीफ को तो बेहतर जेल की सुविधा मिल सकती है. लेकिन मरियम को यह सुविधा पाने के लिए साबित करना होगा कि आयकर के रूप में उन्होंने एक साल में कम से कम छह लाख रुपए जमा किए हैं. इस बाबत मरियम को ज़रूरी कागजात भी जमा कराने होंगे. स्थानीय खबरों के मुताबिक मोहम्मद सफदर को भी बेहतर श्रेणी की जेल में रखा जा सकता है. मगर उन्हें भी इसके लिए आवेदन करना होगा. साथ ही इसके लिए तय शर्तें पूरी करनी होंगी. फिलहाल उन्हें सामान्य जेल में रखा गया है. बेहतर श्रेणी की जेलों में एयरकंडीशनर के साथ रेफ्रिजरेटर के अलावा कई दूसरी सुविधाएं भी दी जाती हैं.