दिल्ली में आतंकी हमले की एक योजना को सुरक्षा एजेंसियों द्वारा नाकाम कर दिया गया है. डेक्कन क्रॉनिकल के मुताबिक बुधवार को अधिकारियों ने यह जानकारी दी. उन्होंने बताया कि इस्लामिक स्टेट (आईएस) के कुछ आतंकियों ने भारत में घुसने के बाद राजधानी में आतंकी हमला करने की योजना बनाई थी जिसे विफल कर दिया गया है.

एक अधिकारी ने बताया कि इस योजना में एक भारतीय भी शामिल था. योजना के मुताबिक उसका काम आईएस आतंकियों को विस्फोटक और रहने की जगह मुहैया कराना था. अधिकारी की मानें तो वह आतंकियों को लाजपत नगर में रहने की जगह दिलाने की कोशिश कर रहा था.

खबर के मुताबिक एक अफगान आत्मघाती हमलावर की गिरफ्तारी से इस योजना का पता चला. बताया गया कि दिल्ली के एक इंजीनियिंग कॉलेज में दाखिला ले चुके इस हमलावर पर सुरक्षा एजेंसियों ने 2017 से नजर बनाई हुई थी. उसने दिल्ली की कुछ जगहों का मुआयना भी किया था. इनमें दिल्ली हवाई अड्डा, अंसल प्लाजा मॉल, वसंत कुंज स्थित मॉल और साउथ एक्सटेंशन मार्केट शामिल थे. गिरफ्तारी के बाद उसे अफगानिस्तान भेजकर अमेरिकी सेना के हवाले कर दिया गया है.

एजेंसियों ने अफगानिस्तान, दुबई और भारत में एक साल से ज्यादा समय तक निगरानी की थी. इसके बाद इस योजना के बारे में पता चल पाया. अधिकारियों के मुताबिक आईएस के 12 आतंकियों को अलग-अलग देशों में भेजा जा रहा था. इन सभी को बम धमाके करने का प्रशिक्षण पाकिस्तान में मिला था.