अमेरिका में रह रही दो भारतवंशी महिलाओं ने प्रतिष्ठित पत्रिका फोर्ब्स की सूची में जगह बनाई है. इनके नाम हैं- जयश्री उलाल और नीरजा सेठी. अपने बलबूते सबसे धनवान बनी 60 अमेरिकी महिलाओं की सूची में इन दोनों को भी शामिल किया गया है.

समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक फोर्ब्स की 2018 की इस सूची में उलाल को 18वां और सेठी को 21वां स्थान मिला है. उलाल 57 साल की हैं. वे लंदन में पैदा हुई और भारत में पली-बढ़ीं. फिलहाल वे 2008 से कंप्यूटर नेटवर्किंग फर्म- अरिस्टा नेवटर्क्स की अध्यक्ष और मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) हैं. उनके मालिकाना हक़ वाली संपत्ति का कुल मूल्य करीब 1.3 अरब डॉलर (लगभग 89.10 अरब रुपए) आंका गया है. वहीं सेठी 63 साल की हैं. वे सूचना-प्रौद्योगिकी सलाहकार एवं आउटसोर्सिंग कंपनी- सिंटेल की उपाध्यक्ष हैं.

सेठी ने 1980 में पति भरत देसाई के साथ मिलकर मिशिगन के ट्रॉय स्थित अपने घर में ही महज 2,000 डॉलर ( करीब 1.37 लाख रुपए) की पूंजी से सिंटेल की स्थापना की थी. स्थापना के बाद पहले साल उनकी इस कंपनी ने महज़ 30,000 डॉलर (लगभग 20.56 लाख रुपए) का कारोबार किया. लेकिन 2017 में उनकी यही कंपनी लगभग 92.4 करोड़ डॉलर (करीब 63.34 अरब रुपए) का कारोबार कर चुकी थी. उनकी कंपनी में इस वक़्त 23,000 के आसपास कर्मचारी हैं. इनमें लगभग 80 फ़ीसदी भारत में हैं. फोर्ब्स ने उनके मालिकाना वाली संपत्ति का कुल मूल्य एक अरब डॉलर (करीब 68.55 अरब रुपए) के आसपास आंका है.

वैसे फोर्ब्स की इस सूची में जगह बनाने वाली 21 साल की रियलिटी टीवी-स्टार और उद्यमी कायली जेनर सबसे युवा हैं. जबकि सभी 60 महिला उद्यमियों के मालिकाने वाली कुल संपत्ति का मूल्य 71 अरब डॉलर (करीब 48.67 खरब रुपए) के आसपास आंका गया है. यह संपत्ति 2017 की तुलना में 15 फीसदी अधिक है.