गुजरात के दक्षिणी हिस्से में लगातार भारी बारिश होने की ख़बर है. इससे जनजीवन बुरी तरह अस्त-व्यस्त हो गया है. बारिश के कारण एक व्यक्ति की मौत होने की ख़बर है. लगभग 600 लोगों को विभिन्न स्थानों से सुरक्षित जगहों पर ले जाया गया है.

द हिंदू के मुताबिक राज्य सरकार ने आपात स्थिति से निपटने के लिए दक्षिण गुजरात में राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल (एनडीआरएफ) की तीन टीमों को तैनात किया हैं. सोमवार से दक्षिण गुजरात और सौराष्ट्र के कुछ हिस्सों में भारी बारिश हो रही है. सूरत, वलसाड और नवसारी इलाके सबसे ज्यादा प्रभावित हैं. लगातार बारिश के बाद कई क्षेत्रों में पानी जमा हो गया है. सड़कें अवरुद्ध हैं. नदियां उफान पर हैं. कई बांधों के ऊपर से पानी बह रहा है. इस बीच सूरत जिले के बारडोली कस्बे में एक व्यक्ति की डूबने से मौत होने की भी ख़बर है.

हिंदुस्तान टाइम्स के मुताबिक कई ट्रेनों (खासकर मुंबई-अहमदाबाद मार्ग पर चलने वाली) को रद्द कर दिया गया है. मछुआरों को समुद्र में न जाने की सलाह दी गई है. भारतीय मौसम विज्ञान विभाग के निदेशक जयंत सरकार ने बुधवार को कहा कि अगले 24 घंटों में दाहोद और पंचमहल जैसे राज्य के पूर्वी, मध्य और दक्षिणी जिलों में भारी बारिश की आशंका है. वहीं उत्तर गुजरात, कच्छ और राज्य के बाकी हिस्सों में सामान्य बारिश होने की संभावना है.