कांग्रेस सांसद शशि थरूर ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को ‘संकीर्ण मानसिकता’ की पार्टी बताते हुए उस पर लोगों को धर्म के आधार पर बांटने का आरोप लगाया है. समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक शशि थरूर ने कहा, ‘ऐसी संभावना है कि भाजपा आगामी आम चुनाव में धार्मिक ध्रुवीकरण करने की पूरी कोशिश करेगी. अगर भाजपा अभी ऐसा नहीं करती तो निश्चित ही वह चुनाव की तारीखें पास आने पर जरूर ऐसा करेगी.’

शशि थरूर के मुताबिक भाजपा जहां अपने राजनीतिक लाभ के लिए धर्म के मुद्दे को उठाती है तो वहीं कांग्रेस ने हमेशा इससे दूरी बनाने की कोशिश की है. केंद्र सरकार को महंगाई नियंत्रित करने में पूरी तरह फेल बताते हुए शशि थरूर ने भाजपा पर किसानों की अनदेखी का आरोप भी लगाया है. तिरुवनंतपुरम के सांसद का यह भी कहना है कि आगामी आम चुनाव में वोटर भाजपा के पक्ष में वोट नहीं देने वाले क्योंकि उसके शासन में तेल के दामों समेत खाद्य पदार्थों की कीमतों में जबरदस्त ​बढ़ोतरी हुई है. उन्होंने आरोप लगाया कि भाजपा शासन में देश का आ​र्थिक विकास भी ठहर गया है.

पिछले कुछ समय से शशि थरूर ने भाजपा पर हमलावर रुख अख्तियार कर रखा है. बीते हफ्ते उन्होंने विवादित बयान देते हुए कहा था कि 2019 में अगर दोबारा भाजपा की सरकार बनती है तो भारत ‘हिंदू पाकिस्तान’ में तब्दील हो जाएगा. हालांकि उनके इस बयान से उनकी पार्टी ने खुद को अलग कर लिया था. इसके बाद इसी सोमवार को भारतीय जनता युवा मोर्चा के कार्यकर्ताओं द्वारा उनके कार्यालय पर हमला किए जाने के बाद उन्होंने भाजपा के लोगों पर उन्हें जान से मार डालने के आरोप लगाए हैं.