अविश्वास प्रस्ताव को लेकर मोदी सरकार और विपक्ष के बीच बयानबाजी तेज हो गई है. गुरुवार को संसदीय मामलों के मंत्री अनंत कुमार ने यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी पर चुटकी ली. उन्होंने कहा, ‘सोनिया जी का गणित कमजोर है. उन्हें आंकड़ों का ज्ञान नहीं है. साल 1996 में भी उन्होंने ऐसी ही गलती की थी. उसके बाद क्या हुआ ये सबको पता है.’ अनंत कुमार ने यह बात सोनिया गांधी के उस बयान पर पलटवार करते हुए कही जिसमें उन्होंने विपक्ष के पास अविश्वास प्रस्ताव के लिए संख्याबल होने की बात कही थी.

भाजपा के पास लोकसभा में कुल 274 सांसद हैं और यह आंकड़ा बहुमत (268) से छह अधिक है. इसके अलावा हिंदुस्तान टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक अनंत कुमार ने अन्य सहयोगी पार्टियों के समर्थन का दावा भी किया है जिनमें शिवसेना, अकाली दल, लोक जनशक्ति पार्टी और जनता दल (यूनाइटेड) शामिल हैं. केंद्रीय मंत्री ने यह भी कहा कि अविश्वास प्रस्ताव के खिलाफ पूरा एनडीए एकजुट हो जाएगा. उन्होंने दावा किया कि शुक्रवार को शाम छह बजे जब मतदान शुरू होगा तो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व को एनडीए के बाहर से भी समर्थन मिलेगा.