‘नरेंद्र मोदी को कश्मीर पर बातचीत का इमरान खान का प्रस्ताव स्वीकार करना चाहिए.’   

— महबूबा मुफ्ती, जम्मू और कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री

जम्मू और कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती का यह बयान पार्टी की स्थापना के बीस साल पूरे होने पर शनिवार को श्रीनगर की एक रैली में आया. इसके साथ उन्होंने कहा, ‘प्रधानमंत्री को इस मौके का इस्तेमाल करते हुए पाकिस्तान के भावी प्रधानमंत्री इमरान खान के साथ अच्छी दोस्ती कायम करनी चाहिए ताकि दोनों देशों के संबंध मजबूत हो सकें. इससे विवादित मुद्दे बातचीत से ही सुलझाए जा सकते हैं.’ राष्ट्रीय स्यवंसेवक संघ (आरएसएस) पर निशाना साधते हुए महबूबा मुफ्ती ने कहा, ‘कश्मीर मसला हल करने के लिए हमने हमेशा आवाज उठाई है लेकिन अनुच्छेद 370 और 35ए के नाम पर स्वार्थी तत्व लगातार रुकावट पैदा करते रहे हैं.’ राज्य में शांति बहाल करने के लिए उन्होंने हुर्रियत नेताओं से बातचीत करने की भी मांग की है.

‘गाय के नाम पर हत्याएं देश के एक और विभाजन की वजह बन सकती हैं’  

— मुज़फ्फर हुसैन बेग, पीपल्स डेमोक्रेटिक पार्टी के नेता

जम्मू और कश्मीर की पीपल्स डेमोक्रेटिक पार्टी के वरिष्ठ नेता मुजफ्फर हुसैन बेग का यह बयान मॉब लिंचिंग में मुसलमानों को निशाना बनाए जाने की घटनाओं पर आया है. शनिवार को श्रीनगर में अपनी पार्टी के स्थापना दिवस के मौके पर आयोजित एक रैली में उन्होंने कहा, ‘गाय और भैंस के नाम पर मुसलमानों का कत्ल बंद होना चाहिए. यह भूलना नहीं चाहिए कि पहले ही 1947 में देश का बंटवारा हो चुका है.’ इससे पहले पिछले हफ्ते राजस्थान के अलवर में गाय तस्करी के आरोप में मुस्लिम समुदाय से आने वाले एक व्यक्ति अकबर की कुछ लोगों ने पीट-पीटकर हत्या कर दी थी.


‘जस्टिस एके गोयल को तुरंत एनजीटी अध्यक्ष पद से हटाया जाए.’  

— रामदास अठावले, केंद्रीय सामाजिक न्याय और सशक्तिकरण राज्यमंत्री

केंद्रीय सामाजिक न्याय और सशक्तिकरण राज्यमंत्री रामदास अठावले का यह बयान एनडीए की सहयोगी लोक जनशक्ति पार्टी (एलजेपी) की मांग का समर्थन करते हुए शनिवार को आया. उन्होंने कहा, ‘अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति के मसले पर सुप्रीम कोर्ट के पूर्व जज जस्टिस एके गोयल ने एक गलत फैसला दिया था. मेरा मानना है कि उन्हें एनजीटी के अध्यक्ष पद पर नियुक्ति नहीं किया जाना चाहिए था.’ रामदास अठावले ने आगे कहा, ‘मैं एनडीए का हिस्सा हूं फिर भी मेरी मांग है कि उन्हें इस पद से हटाया जाए. उन्होंने दलितों की भावनाओं को आहत किया है.’ इससे पहले मार्च में एससी-एसटी उत्पीड़न कानून के तहत किए गए अपराध को जस्टिस एके गोयल और यूयू ललि​त की खंडपीठ ने जमानती करार दिया था.


‘प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सामने कोई मोर्चा नहीं टिक सकेगा.’  

— जितेंद्र सिंह, प्रधानमंत्री कार्यालय में राज्यमंत्री

प्रधानमंत्री कार्यालय में राज्यमंत्री और भाजपा नेता जितेंद्र सिंह का यह बयान शनिवार को आया. वे जम्मू और कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की विपक्षी दलों का महागठबंधन बनाने की कोशिशों के बारे में बोल रहे थे. उन्होंने कहा, ‘यह महागठबंधन उन लोगों की निराशा का प्रतीक है जो जनता का सम​र्थन न मिलने से पैदा हुई है. ऐसे लोग केवल घृणा के चलते एकजुट हुए हैं.’ इससे पहले आज कोलकाता में क्षेत्रीय ताकतों को एकजुट करने के लिए उमर अब्दुल्ला ने ममता बनर्जी से मुलाकात की थी.


‘इमरान खान दक्षिण एशिया के सबसे बड़े अमेरिका विरोधी नेता हैं.’   

— ब्रूस रिडेल, अमेरिकी राष्ट्रपति के पूर्व सलाहकार

अमेरिकी राष्ट्रपति के पूर्व सलाहकार ब्रूस रिडेल की यह टिप्पणी पाकिस्तान में इमरान खान की जीत के बाद शनिवार को आई. उन्होंने कहा, ‘इमरान खान अमेरिका के कड़े आलोचक हैं. वे अपने बयानों में कई बार कह चुके हैं कि पाकिस्तान की समस्याओं के लिए अमेरिका जिम्मेदार है.’ ब्रूस रिडेल ने आगे कहा है, ‘इमरान खान पाकिस्तानी सेना के मुखर समर्थक हैं और उनका आईएसआई के संरक्षण में चलने वाले इस्लामी आंदोलन से भी करीबी रिश्ता है. ऐसे में उनके सत्ता में आने के बाद दुनिया का सबसे खतरनाक देश अब और खतरनाक हो गया है.’