दक्षिण दिल्ली नगर निगम (एसडीएमसी) जल्दी ही ऐसे स्कूलों की शुरुआत करेगा जहां पढ़ने वाले बच्चों को अंग्रेजी माध्यम से शिक्षा दी जाएगी. द इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक इस बारे में एसडीएमसी शिक्षा समिति की अध्यक्ष नंदिनी शर्मा ने कहा है कि पिछले दिनों अभिभावक-शिक्षक मीटिंग के दौरान इन स्कूलों में पढ़ने वाले बच्चों के परिवार वालों से अंग्रेजी माध्यम से शिक्षा देने के अलावा कंप्यूटर शिक्षा को बढ़ावा दिए जाने के सुझाव मिले थे. यह फैसला इसी के मद्देजनर किया गया है.

नंदिनी शर्मा ने आगे कहा, ‘अंग्रेजी माध्यम से शिक्षा के बारे में पहले हमारा विचार था कि एसडीएमसी के सभी स्कूलों में एक अलग सेक्शन बना दिया जाए. लेकिन अब इसके लिए दक्षिणी दिल्ली के हर वार्ड में एक मॉडल स्कूल खोले जाने की योजना है.’ उनका यह भी कहना है कि इस पहल से एसडीएमसी के स्कूलों में पढ़ने के लिए आने वाले बच्चों की संख्या बढ़ाने में भी मदद मिलेगी.

बताया जा रहा है कि बीते कुछ सालों के दौरान खासकर प्राथमिक कक्षाओं में एसडीएमसी के स्कूलों में दाखिला लेने वाले बच्चों की संख्या में कमी दर्ज की गई है. आंकड़ों के मुताबिक साल 2016-17 के शैक्षिक सत्र के मुकाबले साल 2017-18 के सत्र के लिए इन स्कूलों में 17,535 कम बच्चों के दाखिले हुए हैं. मौजूदा समय में एसडीएमसी के 581 स्कूलों में ढाई लाख छात्र-छात्राओं के नाम दर्ज हैं.