राज्यसभा के उप सभापति पद के लिए नौ अगस्त को चुनाव होना है. पर इसमें अपने प्रत्याशी को जीत दिलाने के लिए सत्ताधारी दल और विपक्ष दोनों में से किसी के पास पूर्ण बहुमत नहीं है. ऐसे में इस चुनाव को लेकर में बीजू जनता दल (बीजेडी) की भूमिका बेहद अहम हो गई है. बीजेडी जिस पक्ष को अपना समर्थन देगा उसके प्रत्याशी की जीत का रास्ता साफ हो जाएगा.

इ इकनॉमिक टाइम्स के मुताबिक इस दौरान बीजेडी के अध्यक्ष और ओडिशा के मुख्यमंत्री बीजू पटनायक इस मुद्दे पर अपनी पार्टी का पक्ष बुधवार को स्पष्ट करने की बात कही है. हालांकि इससे पहले मंगलवार को बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बीजू पटनायक से राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) के प्रत्याशी हरिवंश नारायण सिंह को समर्थन देने के लिए बातचीत की थी. सूत्रों के मुताबिक इस बातचीत के दौरान पटनायक ने उन्हें एनडीए प्रत्याशी को समर्थन देने का विश्वास दिलाया था.

इस बीच बीजू पटनायक के कार्यालय की तरफ से जानकारी दी गई है कि राज्यसभा उप सभापति के चुनाव में समर्थन हासिल करने के लिए भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) अध्यक्ष अमित शाह के अलावा केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने भी उनसे बातचीत की थी. इसके अलावा नेशनलिस्ट कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) के मुखिया शरद पवार की भी इस मुद्दे पर ओडिशा के मुख्यमंत्री से बात हुई थी.