बिहार के मुजफ्फरपुर स्थि​त ​बालिका संरक्षण गृह में बच्चियों के यौन शोषण के मामले में चौतरफा दबाव झेल रहीं राज्य की समाज कल्याण मंत्री मंजू वर्मा ने आखिरकार अपना इस्तीफा दे दिया है. खबरों के मुताबिक मंजू वर्मा के पति पर इस बालिका गृह में नियमित रूप से आने-जाने और इस मामले के मुख्य आरोपित बृजेश ठाकुर के साथ करीबी संबंध होने का आरोप है.

इस मामले में ​बिहार की समाज कल्याण मंत्री के पति का नाम आने के बाद से विपक्षी दल राज्य सरकार और मुख्यमंत्री ​नीतीश कुमार के खिलाफ काफी आक्रामक रुख बनाए हुए हैं. इस बीच मंगलवार को नीतीश कुमार ने एक बयान में कहा था कि इस मामले में चाहे जो कोई भी दोषी हो उसे किसी हाल में बख्शा नहीं जाएगा. उन्होंने यह भी कहा था कि इस मामले में अगर मंजू वर्मा के खिलाफ कुछ गलत पाया जाता है तो उनका इस्तीफा भी लिया जा सकता है.

मुख्यमंत्री के इस बयान से पहले सोमवार को पटना हाईकोर्ट ने इस मामले की सीबीआई जांच अपनी निगरानी में कराने का फैसला किया था. मुजफ्फरपुर के इस संरक्षण गृह में बच्चियों के शोषण और यहां बरती जाने वाली अनियमितताओं का खुलासा टाटा इंस्टीट्यूट आॅफ सोशल साइंसेज द्वारा तैयार की गई एक रिपोर्ट के जरिये हुआ था. इस रिपोर्ट के आधार पर स्थानीय पुलिस ने मामला दर्ज करने के बाद यहां रखी गई बच्चियों की मेडिकल जांच कराई थी जिससे बीते महीनों के दौरान उनका यौन शोषण किए जाने की पुष्टि हुई थी.