कर्नाटक की राजधानी बेंगलुरु में लोगों को राष्ट्रगान सिखाने के लिए 15 अगस्त से एक विशेष अभियान शुरू किया जाएगा. इसके तहत लोगों को बिना रुके और स्पष्ट तरीके से राष्ट्रगान गाना सिखाया जाएगा. एनडीटीवी की खबर के मुताबिक कर्नाटक के पूर्व लोकायुक्त और सुप्रीम कोर्ट के पूर्व जस्टिस संतोष हेगड़े इस अभियान का नेतृत्व करेंगे.

इस अभियान के आयोजकों ने बताया कि इसके तहत शहर में विशेष रूप से डिजाइन किए गए रथ चलाए जाएंगे. इनमें प्रसिद्ध संगीतकारों के साथ लोक कलाकार और वॉलंटियर्स सवार रहेंगे. यह रथ के बेंगलुरु के दसरहल्ली विधानसभा क्षेत्र में 40 किलोमीटर की दूरी तय करेगा और 72 महत्वपूर्ण जंक्शनों पर रुकेगा. हर जंक्शन पर अभियान से जुड़े वॉलंटियर्स लोगों को पर्चे बाटेंगे.

जस्टिस संतोष हेगड़े ने बताया, ‘इस अभियान का मकसद लोगों को राष्ट्रगान की महत्ता और इसका सम्मान कब करना है, यह समझाना है. राष्ट्रगान देशभक्ति से जुड़ा हुआ है. हम यह कार्यक्रम 15 अगस्त से कई जगहों पर कर रहे हैं.’ उधर, प्रसिद्ध साहित्यकार प्रोफेसर डोड्डा रेंज गौड़ा ने कहा, ‘हालांकि लोग राष्ट्रगान गाते हैं लेकिन, कई लोगों को इसके बोल ठीक से मालूम नहीं है. यहां तक कि लोग उच्चारण में भी कई प्रकार की गलतियां करते हैं. इसलिए, हम कन्नड़ और अंग्रेजी में प्रकाशित राष्ट्रगान की प्रतियां लोगों को वितरित करेंगे.’