प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश में बढ़ रही मॉब लिंचिग की घटनाओं को दुर्भाग्यपूर्ण बताया है. उन्होंने इन घटनाओं पर राजनीति करने को लेकर विपक्ष पर भी तीखा हमला बोला है.

समाचार एजेंसी एएनआई को दिए साक्षात्कार में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, ‘इस तरह की घटनाओं (मॉब लिंचिंग) को महज आंकड़ों तक सीमित कर देना और फिर इन पर राजनीति करना इनका उपहास उड़ाने जैसा है. यह एक विकृत मानसिकता को दिखाता है जो ऐसी घटनाओं का भी राजनीतिक फायदा उठाना चाहती है.’ प्रधानमंत्री के मुताबिक सभी को एक होकर इस तरह की घटनाओं का विरोध करने की जरूरत है.

नरेंद्र मोदी ने ऐसी घटनाओं को लेकर अपनी पार्टी का बचाव भी किया. उन्होंने कहा, ‘ मैं और मेरी पार्टी ने कई मौकों पर स्पष्ट शब्दों में ऐसी घटनाओं और ऐसी मानसिकता वाले लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने की बात कही है. इस तरह की एक भी घटना दुर्भाग्पूर्ण है. हर किसी को समाज में शांति और एकता सुनिश्चित करने के लिए राजनीति से ऊपर उठना चाहिए.’

पिछले महीने राजस्थान में हुई मॉब लिंचिग की एक घटना के बाद कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कानून-व्यवस्था पर सवाल उठाते हुए प्रधानमंत्री मोदी पर तीखा हमला बोला था. उन्होंने एक ट्वीट में लिखा था, ‘ये पीएम मोदी का क्रूर इंडिया है. जहां मानवता को घृणा से बदल दिया गया है और लोगों को कुचल दिया गया है.’

केंद्रीय गृह मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक 2014 से मार्च 2018 के बीच देश के नौ राज्यों में मॉब लिंचिग की 40 घटनाएं हुई हैं जिनमें 45 लोगों ने अपनी जान गंवाई है.