अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप अपनी भाषा को लेकर वहां के मीडिया की जबर्दस्त आलोचना का सामना कर रहे हैं. हालांकि इस आलोचना का उन पर कोई असर होता नहीं दिखता. उनके नए विवादित बयान से इसका पता चलता है. खबर है कि डोनाल्ड ट्रंप ने अपनी एक पूर्व सहयोगी ओमारोसा मैनीगॉल्ट न्यूमन को ‘कुत्ता’ कहा है. टेलीविजन सेलिब्रिटी रहीं ओमारोसा लगातार डोनाल्ड ट्रंप की बातचीत की रिकॉर्डिंग्स सार्वजनिक कर रही थीं. इसी से गुस्साए ट्रंप ने उनके लिए कुत्ता शब्द का इस्तेमाल किया. उन्होंने लिखा, ‘(व्हाइट हाउस की काउंसलर) जनरल केली (कॉनवे) ने उस कुत्ते (ओमारोसा) को निकाल कर अच्छा काम किया.’

क्या है मामला?

ओमारोसा डोनाल्ड ट्रंप की सबसे प्रमुख अश्वेत समर्थकों में से एक रही हैं. लेकिन पिछले साल दिसंबर में उन्हें व्हाइट हाउस से निकाल दिया गया था. तब से वे लगातार व्हाइट हाउस के अपने अनुभव सार्वजनिक रूप से साझा कर रही हैं. इसी सिलसिले में हाल में उन्होंने कुछ ऑडियो टेप जारी किए थे. राजनीति में आने से पहले ट्रंप एक बड़े व्यापारी थे. वे ‘द एप्रिंटाइस’ नामक एक टेलीविजन प्रोग्राम भी करते थे जिसमें वे अपनी कंपनी के लोगों को नौकरी से निकालने का सीधा प्रसारण करते थे. उस दौरान वे कर्मचारियों को अपमानित भी करते थे.

इस प्रोग्राम के एक एपिसोड की अप्रमाणित रिकॉर्डिंग मंगलवार को सीबीएस न्यूज ने जारी की थी. अक्टूबर 2016 की इस रिकॉर्डिंग में ओमारोसा और ट्रंप के अन्य सहयोगी उनके द्वारा इस्तेमाल किए गए जातीय शब्द पर चर्चा कर रहे हैं. उस समय ट्रंप अमेरिका के राष्ट्रपति चुनाव में रिपब्लिकन पार्टी के उम्मीदवार के रूप में प्रचार कर रहे थे. टेप में इस बात को लेकर बातचीत हो रही थी कि ट्रंप द्वारा इस्तेमाल किए गए जातीय शब्द से उन्हें चुनाव में कितना नुकसान हो सकता है.

सीबीएस न्यूज की मूल कंपनी सीबीएस कॉर्पोरेशन ने ओमारोसा की एक किताब भी प्रकाशित की है. उसमें भी इस बातचीत का जिक्र किया गया है. इसी को लेकर सोमवार को ट्रंप ने कहा कि ऐसा कोई टेप नहीं है. टेप में ट्रंप के जिन सहयोगियों की आवाज है उनमें से भी कुछ ने इससे इनकार किया है. खबरों के मुताबिक इस टेप की जांच नहीं हो पाई है. इस बीच मंगलवार को डोनाल्ड ट्रंप ने ट्वीट कर ओमारोसा को कुत्ता कह दिया.