जम्मू-कश्मीर में श्रीनगर के लाल चौक पर तिरंगा फहराने की कोशिश करने वाले कुछ लोगों के साथ मारपीट हुई है. यह मंगलवार की घटना है. द इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक छह-सात लोगों के एक समूह ने लाल चौक पर तिरंगा फहराने की कोशिश की. वे इसमें कामयबा होते, इसके पहले ही कुछ स्थानीय लोगों ने उनसे तिरंगा छीन लिया. इसके बाद तिरंगा फहराने आए लोगों के साथ उन्होंने मारपीट भी की. मौके पर पहुंची पुलिस ने इन लोगों को भीड़ से छुड़ाया. इसके लिए पुलिस को हल्का बल भी प्रयोग करना पड़ा.

श्रीनगर पुलिस के एसपी (पूर्वी क्षेत्र) दाउद अय्यूब ने बताया, ‘ये लोग मंगलवार की दोपहर करीब एक बजे लाल चौक के घंटाघर पर पहुंचे थे. तिरंगा फहराने को लेकर उनकी स्थानीय लोगों के साथ पहले बहस हुई थी और फिर बात मारपीट तक पहुंच गई.’ उन्होंने आगे कहा, ‘पुलिस ने इस इन लोगों को हिरासत में ले लिया और इनसे पूछताछ की जा रही है.’

स्वतंत्रता दिवस और गणतंत्र दिवस के मौकों पर इससे पहले भी श्रीनगर के लाल चौक पर तिरंगा फहराने की कोशिशें की गई हैं. खबरों के मुताबिक यहां तिरंगा फहराने को लेकर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री फारुक अब्दुल्ला भी चुनौती दे चुके हैं. हालांकि 1992 में जब जम्मू-कश्मीर में आतंकवाद अपने चरम पर था तो उस वक्त भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के पूर्व नेता मुरली मनोहर जोशी ने लाल चौक पहुंचकर तिरंगा फहराया था.