शराब कारोबारी विजय माल्या के बाद नीरव मोदी. हीरे-जवाहरात के कारोबारी नीरव के बारे में पुष्टि हो चुकी है कि वह इस वक़्त लंदन में रह रहा है. इसके बाद केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने उसके प्रत्यर्पण के लिए भी अर्ज़ी लगा दी है.

नीरव मोदी पर आरोप है कि उसने पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) से 13,500 करोड़ रुपए कर्ज़ लेकर उसे चुकाया नहीं और देश छाेड़कर भाग गया. बताया जता है कि ब्रिटिश अधिकारियों ने इसी रविवार को नीरव के लंदन में होने की पुष्टि की है. समाचार एजेंसी आईएएनएस ने सीबीआई के एक अधिकारी के हवाले से यह ख़बर दी है. नीरव मोदी ने इसी साल जनवरी में देश छोड़ा था. तब से उसके बारे में यह पुष्टि नहीं हो पा रही थी कि वह किस देश में शरण लिए हुए है.

ग़ौरतलब है कि बीते 16 में (साल 2002 से) नीरव मोदी 29वां ऐसा भगोड़ा अपराधी है जिसने लंदन में शरण ली है. इन अपराधियों को भारत लाने के लिए ब्रिटेन ने बीते सालों में नौ बार भारत की प्रत्यर्पण अर्ज़ियां ख़ारिज़ की हैं. इन्हीं अपराधियाें में से एक विजय माल्या के प्रत्यर्पण का मामला अभी लंदन की अदालत में विचाराधीन है. माल्या ने भारतीय बैंकों से 9,000 करोड़ रुपए से ज़्यादा का कर्ज़ लेकर उसे चुकाए बिना लंदन में शरण ले रखी है.