स्कॉट मॉरिसन ऑस्ट्रेलिया के नये प्रधानमंत्री होंगे. सत्ताधारी लिबरल पार्टी में उठे विवादों के बीच मैल्कम टर्नबुल को शुक्रवार को प्रधानमंत्री पद से हटा दिया गया. इसके बाद पार्टी में हुए आंतरिक चुनाव में ऑस्ट्रेलिया के कोषाध्यक्ष स्कॉट मॉरिसन का मुकाबला गृह मंत्री पीटर डटन और विदेश मंत्री जूली बिशप के साथ हुआ. इसके आखिरी राउंड में उन्होंने गृहमंत्री पीटर डटन को 45-40 से हराया. मॉरिसन ऑस्ट्रेलिया के 30वें प्रधानमंत्री होंगे. यह देश पिछले 10 साल में छह प्रधानमंत्री देख चुका है

ऑस्ट्रेलिया में हाल में हुए कई सर्वेक्षणों में सत्ताधारी गठबंधन विपक्ष से पिछड़ता दिख रहा था. इसके बाद लिबरल पार्टी में आंतरिक कलह शुरू हो गया था. बीते मंगलवार को गृह मंत्री पीटर डटन ने वर्तमान प्रधानमंत्री मैल्कम टर्नबुल पर अपना अविश्वास जाहिर किया. उन्होंने प्रधानमंत्री को पार्टी के भीतर विश्वासमत के लिए चुनौती दी. टर्नबुल मामूली अंतर से चुनाव जीत गए. इसके बाद फिर से चुनाव की मांग उठी. इस पर प्रधानमंत्री टर्नबुल ने शुक्रवार को पार्टी की बैठक बुलाकर सर्वसम्मति से आंतरिक चुनाव की घोषणा कर दी. उन्होंने खुद इस चुनाव में हिस्सा नहीं लिया.

मैल्कम टर्नबुल ने पहले ही यह स्पष्ट कर दिया था कि यदि वे प्रधानमंत्री पद से हटे तो सांसदी से भी इस्तीफा दे देंगे. अब इस सूरत में सरकार को उनकी संसदीय सीट सिडनी में भी उपचुनाव करवाना होगा. मौजूदा सरकार के पास बहुमत से सिर्फ एक सीट ज्यादा है और ऐसे में इस उपचुनाव का असर सरकार की स्थिरता पर भी पड़ सकता है.