राष्ट्रीय जनता दल के सुप्रीमो और बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव को 30 अगस्त तक वापस जेल में लौटना होगा. झारखंड हाई कोर्ट ने जमानत अवधि तीन महीने और बढ़ाने की उनकी याचिका को खारिज करते हुए उन्हें वापस जेल लौटने का आदेश दिया है. बता दें कि बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री की जमानत अवधि 27 अगस्त को समाप्त हो रही है जिसके बाद लालू यादव को सीबीआई की विशेष अदालत में समर्पण करना होगा.

लालू प्रसाद यादव को चारा घोटाले के देवघर, दुमका और चाईबासा ट्रेजरी से जुड़े चार मामलों में सीबीआई की विशेष अदालत ने 14 साल सश्रम कारावास की सजा सुनाई है. फिलहाल वे मुंबई के एक अस्पताल में अपना इलाज करवा रहे हैं. लालू प्रसाद यादव को इलाज के लिए कोर्ट द्वारा 11 मई को छह हफ्ते की जमानत दी गई थी जिसे कोर्ट ने 17 अगस्त को 10 दिन के लिए बढ़ा दिया था. लेकिन इस बार कोर्ट ने याचिका को ठुकराते उन्हें वापस जेल लौटने का आदेश दिया है.