इटली की पर्यटक ऑली ऐस ने आरोप लगाया है कि ठेके पर रखी गई (आउटसोर्स) एयर इंडिया के महिला कर्मचारी ने उनसे बदसलूकी की, उन्हें थप्पड़ भी मारा. ऑली इटली की जानी-मानी डिस्क जॉकी (डीजे) हैं. उन्होंने इस बाबत एक वीडियो भी सोशल मीडिया पर डाला है. मामला सामने आते ही एयर इंडिया ने ऑली के इन आरोपों का खंडन किया है.

ख़बरों के मुताबिक ऑली के साथ यह घटना इसी महीने की 19 तारीख को हैदराबाद के राजीव गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्‌डे पर हुई थी. हवाई अड्‌डे के पुलिस निरीक्षक एम महेश ने इसकी पुष्टि की है. उन्होंने बताया कि उन्हें इस बाबत शिकायत मिली थी. इसमें पीड़ित ने आरोप लगाया था कि उसे जानबूझकर चोट पहुंचाई गई. घटना की जांच जारी है.

वहीं वीडियो में ऑली ने बताया कि उन्हें एयर इंडिया के विमान से दिल्ली जाना. यह उड़ान नौ घंटे लेट थी. लिहाज़ा उन्हें एयर इंडिया के काउंटर पर मदद के लिए जाना पड़ा. लेकिन वहां उन्हें ठीक ढंग से ज़वाब नहीं दिया गया. उन्होंने बताया, ‘डेस्क पर मौज़ूद महिला कर्मचारी अशिष्ट तरीके से बात कर रही थी. इससे मेरी उसके साथ बहस हुई. तभी उसने मुझे थप्पड़ मार दिया. मैंने पुलिस में शिकायत दर्ज़ करानी चाही लेकिन मौके पर कोई था ही नहीं. मुझे इससे गहरा धक्का पहुंचा है.’

इस बाबत एयर इंडिया के प्रवक्ता से संंपर्क किया गया तो उन्होंने बताया, ‘जिस कर्मचारी का ज़िक्र किया गया है वह एयर इंडिया की नहीं है. बल्कि उस फर्म से ताल्लुक़ रखती है जिससे एयर इंडिया ठेके पर सेवाएं ले रही है. उस कर्मचारी ने भी ऑली को थप्पड़ नहीं मारा. यह आरोप गलत है. उल्टा हुआ यह था कि ऑली अपने मोबाइल से उस कर्मचारी का वीडियो बनाने की कोशिश कर रही थीं. इस पर उसने उन्हें रोकने की कोशिश की थी. इसी कोशिश के दौरान ऑली का मोबाइल गिरते-गिरते बचा. इससे ज़्यादा कुछ नहीं हुआ था.’