प्रसिद्ध अमरनाथ तीर्थयात्रा शंतिपूर्वक संपन्न हो गई है. इस साल 2.85 लाख से ज्यादा श्रद्धालुओं ने अमरनाथ गुफा में शिवलिंग के दर्शन किए. यह संख्या पिछले तीन वर्षों के मुकाबले ज्यादा है.

इस साल अमरनाथ यात्रा 28 जून को शुरू हुई थी. रविवार को श्रावण पूर्णिमा के दिन छड़ी मुबारक पूजा-अर्चना के साथ इसका का समापन हुआ. द टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के मुताबिक इस साल यात्रा के दौरान करीब 38 लोगों की मौत हो गई थी जिनमें स्थानीय लोगों के साथ श्रद्धालु भी शामिल हैं.

अमरनाथ यात्रा में पिछले साल हुए आतंकी हमले को देखते हुए इस बार घाटी में 40 हजार से ज्यादा सुरक्षाकर्मियों को तैनात किया गया था. इस यात्रा में पहली बार सुरक्षा बलों ने अमरनाथ यात्रा में शामिल गाड़ियों को ट्रैक करने के लिए रेडियो फ्रीक्वेंसी (आरएफ) का प्रयोग किया था. इसके साथ ही सीआरपीएफ का एक दल मोटरसाइकिल से भी पेट्रोलिंग में लगा हुआ था. श्रद्धालुओं को यात्रा के दौरान कोई परेशानी न हो इसलिए इस बार हेलिकॉप्टर सेवा भी उपलब्ध कराई गई थी.