कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) सरकार को उन्हें गिरफ्तार करने की चुनौती दी है. उन्होंने कहा, ‘भाजपा ने पहले मुझे राष्ट्र-विरोधी कहा और अब नक्सलवादियों के साथ मेरे संबंध होने की बात कह रही है. अगर भाजपा ऐसा ही मानती है तो केंद्र या राज्य सरकार मुझे गिरफ्तार कर ले.’ इससे पहले भाजपा ने दिग्विजय सिंह के अलावा कांग्रेस के ही एक अन्य नेता जयराम रमेश पर नक्सलवादियों के साथ संबंध होने के आरोप लगाए थे.

द इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक इस दौरान दिग्विजय सिंह ने यह भी कहा है कि बीते दिनों वाममंथी कार्यकर्ताओं की गिरफ्तारी में ‘गुजरात शासन प्रणाली’ की झलक देखने को मिलती है.’ उन्होंने कहा, ‘गुजरात में जब नरेंद्र मोदी की सरकार थी तो उस दौरान राज्य में कई फर्जी मुठभेड़ें हुई थीं. उन मुठभेड़ों में मरने वालों पर राज्य के तत्कालीन मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी की हत्या की साजिश रचने का आरोप लगाया गया था. अब जबकि नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री हैं, केंद्र में भी कुछ वैसा ही देखने को मिल रहा है.’

इससे पहले मंगलवार को ही भाजपा के प्रवक्ता संबित पात्रा ने दिल्ली में आयोजित एक प्रेस वार्ता के दौरान एक चिट्ठी के हवाले से दिग्विजय सिंह पर नक्सलवादियों के साथ संबंध होने और उन्हें वित्तीय मदद पहुंचाने के आरोप लगाए थे. इसके साथ ही नक्सलवाद को लेकर भाजपा प्रवक्ता ने कांग्रेस पर दोहरा चरित्र अपनाने की बात भी कही थी.