जम्मू और कश्मीर के ककरियाल में गुरुवार को सुरक्षा बलों ने जैश-ए-मुहम्मद के दो आतंकवादियों को मार गिराया है. हालांकि इस मुठभेड़ में सुरक्षा बल के नौ जवान घायल भी हुए हैं. एक स्थानीय पुलिस अधिकारी ने जानकारी दी है कि घायल जवानों में से पांच सेंट्रल रिजर्व पुलिस फोर्स और तीन जम्मू पुलिस के जवान थे. घायलों में डीएसपी मोहन लाल भी शामिल हैं. सभी घायलों को कटरा के नारायण अस्पताल में भर्ती करवाया गया है.

बुधवार को तीन आतंकी ट्रक से श्रीनगर-जम्मू राजमार्ग पर यात्रा कर रहे थे. यहां जब इन्हें एक स्थानीय वन अधिकारी ने रोकने की कोशिश की तो ये उस पर फायरिंग करते हुए जंगल में भाग गए. इस घटना के बाद सुरक्षा बलों ने आतंकियों की धरपकड़ के लिए क्षेत्र में तलाशी अभियान शुरू किया. गुरुवार को यहां के सभी स्कूल बंद कर दिए गए थे. सुरक्षा बलों को सुबह सूचना मिली थी कि आतंकी जंगल में एक घर में छिपे हैं. इसके बाद जब सुरक्षाबलों के जवान यहां पहुंचे तो आतंकियों के साथ उनकी मुठभेड़ हुई.

पुलिस के अधिकारियों ने बताया कि इस मुठभेड़ में मारे गए दो आतंकियों की पहचान पाक नागरिकों के रूप में हुई है. इनके नाम अली उर्फ अख्तर और जिया-उर-रहमान हैं और इनका संबंध जैश-ए-मुहम्मद से था. पुलिस के मुताबिक अली इस साल सोपोर में हुए आईडी ब्लास्ट का मास्टमाइंड था. इस हमले में चार पुलिसकर्मी शहीद हो गए थे. इस बीच तीसरे आतंकी को ढूढ़ने के लिए पुलिस और सेना जंगल में छानबीन कर रही है.