भारत के साथ संबंध सुधारने की बात कहने वाले पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने अपने यहां की खुफिया एजेंसी इंटर-सर्विसेज इंटेलिजेंस यानी आईएसआई को दुनिया की बेहतरीन खुफिया एजेंसी बताया है. इमरान खान ने बुधवार को आईएसआई मुख्यालय के अपने पहले दौरे के दौरान यह बात कही. उन्होंने कहा कि पाकिस्तान की रक्षा-पंक्ति में सबसे आगे आईएसआई है.

डेक्कन क्रॉनिकल के मुताबिक आईएसआई मुख्यालय में इमरान खान के साथ उनकी कैबिनेट के मंत्री भी मौजूद थे. इस दौरान आईएसआई के वरिष्ठ अधिकारियों ने उन्हें खुफिया एजेंसी के काम करने के तरीकों से वाकिफ कराया. इनमें खुफिया जानकारी के लिए रणनीति बनाना और राष्ट्रीय सुरक्षा से संबंधित मामले शामिल थे. इमरान के दौरे के बाद आईएसआई की जनसंपर्क शाखा ने एक बयान जारी करते हुए कहा, ‘प्रधानमंत्री (इमरान खान) ने देश की सुरक्षा के लिए किए गए कामों के लिए आईएसआई की प्रशंसा की, खास तौर पर आतंक-विरोधी प्रयासों के संबंध में. प्रधानमंत्री ने कहा कि आईएसआई हमारी रक्षा-पंक्ति में सबसे आगे है और दुनिया की सबसे बेहतरीन खुफिया एजेंसी है.’

इससे पहले इमरान खान दो बार पाकिस्तानी सेना के मुख्यालय का दौरा कर चुके हैं. पाकिस्तान में हुए आम चुनाव के बाद उन पर आरोप लगते रहे हैं कि पाकिस्तानी सेना ने ही उन्हें प्रधानमंत्री बनाया है. पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ की पार्टी पीएमएल-एन ने कई बार दावा किया है कि इमरान को प्रधानमंत्री के पद पर पहुंचाने में सेना के ताकतवर पदों पर बैठे लोगों का हाथ है.