प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज ‘स्वच्छता ही सेवा’ अभियान की शुरुआत की. इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक दिल्ली के एक स्कूल में झाडू़ लगाकर इस कार्यक्रम का उद्घाटन करते हुए उन्होंने कहा, ‘समाज के सभी वर्गों ने स्वच्छता अभियान में अपना योगदान दिया है. क्या कोई ये सोच सकता था कि भारत में चार वर्षों में करीब नौ करोड़ शौचालयों का निर्माण और लगभग 4.5 लाख गांव खुले में शौच से मुक्त हो जाएंगे? यह अभियान दो अक्टूबर यानी महात्मा गांधी जयंती तक जारी रहेगा.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस मौके पर वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से देशभर में विभिन्न जगहों के लोगों से बात की. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, अमिताभ बच्चन और रतन टाटा जैसी बड़ी हस्तियों ने प्रधानमंत्री से बात करते हुए स्वच्छता अभियान से संबंधित अपने काम का ब्योरा भी साझा किया. स्वच्छ भारत मिशन की सफलता पर प्रकाश डालते हुए नरेंद्र मोदी ने यह भी कहा, ‘स्वच्छता कवरेज अब 90 फीसदी से ऊपर है, जो चार साल पहले 40 फीसदी हुआ करता था. यह महज चार सालों में हुआ है.’ उनका यह भी कहना था कि इस काम में देश के हर व्यक्ति को अपना योगदान देना होगा, सरकार अकेले कुछ नहीं कर सकती. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, ‘सिर्फ शौचालय बनाने भर से भारत स्वच्छ हो जाएगा, तो ऐसा नहीं है. स्वच्छता एक आदत है, जिसे रोज के अनुभवों में शामिल करना पड़ता है.’