वॉट्सएप ने खालिस्तान की मांग करने वाले अलगाववादी संगठन सिख फॉर जस्टिस (एसएफजे) के कानूनी सलाहकार गुरपतवंत सिंह पन्नुन का अकाउंट ब्लॉक कर दिया है. इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक एसएफजे ने ‘रेफरैंडम 2020 खालिस्तान’ नाम के वॉटसएप ग्रुप चलाने वालों से अपील की थी कि वे राजद्रोह की कार्रवाई से बचने के लिए पन्नुन को एडमिन बना दें. इसके बाद कंपनी ने मामले में कार्रवाई करते हुए उसका अकाउंट ही बैन कर दिया. इससे पहले इसी महीने की शुरुआत में भारत सरकार की शिकायत पर माइक्रोब्लॉगिंग साइट ट्विटर ने भी पन्नुन के अकाउंट को ब्लॉक कर दिया था.

इसी साल अगस्त में सिख फॉर जस्टिस ने लंदन में खलिस्तान की मांग को लेकर एक रैली का आयोजन किया था. इसके बाद भारत सरकार ने रैली की अनुमति देने के लिए ब्रिटिश सरकार के सामने अपना विरोध जताया था. एसएफजे अलग खालिस्तान की मांग करता रहा है.