छत्तीसगढ़ में अजीत जोगी की पार्टी जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) और मायावती की बहुजन समाजवादी पार्टी (बसपा) ने आगामी विधानसभा चुनाव को लेकर गठबंधन का ऐलान किया है. दोनों नेताओं ने आज एक संयुक्त प्रेस-कॉन्फ्रेंस में यह घोषणा की है. इस दौरान बसपा सुप्रीमो मायावती ने स्पष्ट किया कि अगर प्रदेश में उनकी सरकार बनती है तो मुख्यमंत्री अजीत जोगी ही होंगे.

इस घटनाक्रम को कांग्रेस के लिए एक बड़ा झटका माना जा रहा है. कांग्रेस राष्ट्रीय और क्षेत्रीय स्तर पर बसपा के साथ गठबंधन करना चाहती है, लेकिन मायावती अब तक गठबंधन के लिए न तो तैयार हुई हैं और न ही उन्होंने इससे मना किया है. लेकिन अब छत्तीसगढ़ में अजीत जोगी के साथ जाने का फैसला करके उन्होंने यहां कांग्रेस के लिए चुनौती जरूर बढ़ा दी है.

खबरों के मुताबिक इस गठबंधन के तहत छत्तीसगढ़ की कुल 90 विधानसभा सीटों में से 55 पर जोगी कांग्रेस चुनाव लड़ेगी, वहीं 35 सीटों पर बसपा का चुनाव लड़ना तय हुआ है. छत्तीसगढ़ में राजस्थान, मध्य प्रदेश, मिजोरम और तेलंगाना के साथ ही इस साल के अंत तक विधानसभा चुनाव होना है.

इस प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी ने छत्तीसगढ़ की भाजपा सरकार पर भी निशाना साधा. उन्होंने कहा, ‘छत्तीसगढ़ में पिछले 15 सालों से भाजपा की सरकार है और वे (भाजपा) सत्ता, पैसे और प्रशासनिक तंत्र का दुरुपयोग करते हुए एक बार फिर सत्ता में आना चाहते हैं. अब हमारा गठबंधन हो गया है. मायावती जी और हम लोग मिलकर भाजपा को जरूर रोक लेंगे.’