छत्तीसगढ़ में बसपा सुप्रीमो मायावती ने कांग्रेस को बड़ा झटका दिया है. उन्होंने अजित जोगी की पार्टी जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ के साथ विधानसभा चुनाव में उतरने का ऐलान किया है. इस खबर को आज के अधिकतर अखबारों ने पहले पन्ने पर जगह दी है. गुरुवार को मायावती ने संयुक्त प्रेस-कॉन्फ्रेंस में इसकी घोषणा की. बसपा प्रमुख ने बताया कि उनकी पार्टी राज्य की 90 सीटों में से 35 पर लड़ेगी. वहीं, 55 सीटों पर जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ अपना दमखम दिखाएगी. राज्य में राजस्थान, मध्य प्रदेश, मिजोरम और तेलंगाना के साथ ही नवंबर-दिसंबर में विधानसभा चुनाव होना है.

दिल्ली पुलिस के एसीपी पर बलात्कार और छेड़छाड़ के आरोप में मामला दर्ज

दिल्ली पुलिस के एक एसीपी पर 33 वर्षीय एक विधवा से बलात्कार करने, उसकी नाबालिग बच्ची से छेड़छाड़ और एक बच्चे को अगवा करने के आरोप में मामला दर्ज किया गया है. आरोपित का नाम रमेश दहिया है. उसे छुट्टी पर भेज दिया गया है. अमर उजाला में प्रकाशित खबर के मुताबिक उत्तरी जिले के पुलिस उपायुक्त नूपुर प्रसाद ने बताया कि इस मामले की गंभीरता को देखते हुए इसे क्राइम ब्रांच को सौंप दिया गया है. बताया जाता है कि यह मामला दो साल पुराना है. उस वक्त आरोपित पुरानी दिल्ली के सदर बाजार थाने में एसएचओ के पद पर तैनात था.

किसी को भी अवॉर्ड के लिए भीख मांगना अच्छा नहीं लगता : बजरंग पुनिया

देश का सबसे बड़ा खेल पुरस्कार राजीव गांधी खेल रत्न न मिलने को लेकर पहलवान बजरंग पुनिया शुक्रवार को केंद्रीय मंत्री राजवर्द्धन सिंह राठौड़ से मिलने वाले हैं. नवभारत टाइम्स की खबर की मानें तो बजरंग इस बात से काफी आहत हैं. उन्होंने कहा, ‘मैंने इस बारे में बात करने के लिए खेल मंत्री राठौड़ सर को फोन भी किया था लेकिन, उन्होंने मेरा फोन नहीं उठाया. मेरे आदर्श योगी भाई (योगेश्वर दत्त) ने उनसे बात की है और शुक्रवार को मिलने के लिए वक्त लिया है.’ इस साल राष्ट्रमंडल और एशियाई खेलों में स्वर्ण पदक जीतने वाले बजरंग पुनिया का आगे कहना है, ‘मैं सिर्फ यह जानना चाहता हूं कि मेरी अनदेखी क्यों की गई. मैं यह जानना चाहता हूं कि मैं इस अवॉर्ड का हकदार हूं या नहीं. अगर हकदार हूं तो तभी मुझे यह अवार्ड दो. किसी को भी अवॉर्ड के लिए भीख मांगना अच्छा नहीं लगता.’ उन्होंने आगे सरकार के खिलाफ कार्रवाई करने की भी बात कही है.

सीमेंट, एसी और टीवी पर जीएसटी दरों में राहत की उम्मीद

जीएसटी परिषद 28-29 सितंबर को होने वाली अपनी अगली बैठक में उपभोक्ताओं के लिए राहत का ऐलान कर सकती है. हिन्दुस्तान में छपी खबर के मुताबिक इस बैठक में सीमेंट, एयर कंडीशनर, बड़े साइज के टीवी के अलावा कई वस्तुओं पर जीएसटी की दरों में कमी की जा सकती है. अखबार को परिषद से जुड़े एक अधिकारी ने बताया कि दरों में यह बदलाव सीमित दायरे में ही होगा. उनका कहना है कि जीएसटी कलेक्शन अभी स्थिर नहीं हुआ है. वहीं, जानकारों का कहना है कि सरकार 28 फीसदी जीएसटी वाले स्लैब में से कुछ वस्तुओं को बाहर निकाल कर उपभोक्ताओं को राहत दे सकती है. इससे पहले बीते जुलाई में परिषद ने 100 से अधिक चीजों की जीएसटी दरों में बदलाव किया था.

नौ पीएसयू की संपत्तियां बेचने की योजना

चालू वित्तीय वर्ष 2018-19 में विनिवेश के जरिये 80,000 करोड़ रुपये के लक्ष्य को हासिल करने के लिए केंद्र सरकार नौ सार्वजनिक कंपनियों (पीएसयू) की संपत्तियां बेचने की योजना बना रही है. बिजनेस स्टैंडर्ड की रिपोर्ट के मुताबिक इनमें एयर इंडिया, पवन हंस, हिंदुस्तान फ्लोरोकार्बन्स और हिंदुस्तान न्यूजप्रिंट शामिल हैं. बिक्री के लिए इन कंपनियों की संपत्तियों की पहचान कर ली गई है. अखबार को एक अधिकारी ने बताया, ‘इन परिसंपत्तियों की बिक्री के लिए हम कई तरीकों पर विचार कर रहे हैं. इनमें पहला तरीका बोली के जरिये है और दूसरा एनबीसीसी मॉडल के माध्यम से. दूसरे तरीके में हम परिसंपत्तियों को एनबीसीसी को सौपेंगे जो इन परिसंपत्तियों का विकास करने के बाद इनकी बिक्री करेगा या फिर इन्हें पट्टे पर देगा.’ बताया जाता है कि ये कंपनियां सरकार की निजीकरण सूची में शामिल हैं. इनकी रणनीतिक बिक्री योजना के मुताबिक जारी रहेगी. साथ ही, इनकी परिसंपत्तियों की बिक्री की प्रक्रिया भी साथ-साथ चलेगी.