त्यौहारों यानी फेस्टिवल सीज़न से पहले यह सप्ताह अपने-अपने सेगमेंट की प्रमुख गाड़ियों के नए एडिशन के नाम रहा. इनमें सबसे ऊपर ‘मारुति-सुज़ुकी’ की लोकप्रिय हैचबैक ‘स्विफ्ट’ का एडिशन है. कंपनी ने नई स्विफ्ट के लिए शुरुआती कीमत 4.99 लाख रुपए तय की है. इसी साल फरवरी में लॉन्च होने के बाद अभी तक स्विफ्ट की 1.02 लाख यूनिट बिक चुकी हैं. जानकारों की मानें तो इस आंकड़े के साथ स्विफ्ट देश की सबसे ज्यादा तेजी से बिकने वाली कार बन गई है. यदि आप किसी छोटे शहर से ताल्लुक रखते हैं और इस खास एडिशन को ख़रीदने का मन बना रहे हैं तो आपको निराश होना पड़ सकता है. क्योंकि कंपनी ने इस स्पेशल एडिशन को दिल्ली, मुंबई, पुणे और चेन्नई समेत कुछ प्रमुख शहरों में ही बिक्री के लिए उपलब्ध करवाया है.

इस फेहरिस्त में दूसरा नाम भी मारुति-सुज़ुकी की ही प्रीमियम फ्लैगशिप ‘नेक्सा’ के तहत बेची जाने वाली हैचबैक ‘इग्निस’ का है. जनवरी-2017 में लॉन्च होने के बाद से यह इग्निस का पहला स्पेशल एडिशन है. चूंकि कंपनी की दूसरी गाड़ियों की तुलना में इग्निस बाज़ार में कुछ खास कमाल नहीं दिखा पाई है इसलिए इस एडिशन में डीलर की तरफ से 45 हज़ार रुपए की स्पेशल एसेसरी लगवाकर कंपनी ने ग्राहकों को लुभाने की कोशिश की है. इसमें इग्निस लिखी हुई साइड डोर क्लेडिंग, साइड स्कर्ट पर सिल्वर मोल्डिंग वाली बॉडी किट और प्रीमियम सीट कवर्स जैसी खूबियां शामिल हैं. यदि आप इग्निस के इस एडिशन को घर लाना चाहते हैं तो इसके लिए आपको 5.28-5.83 रुपए तक चुकाने पड़ सकते हैं.

चेक गणराज्य की ऑटोमोबाइल कंपनी ‘स्कोडा’ ने भी इस फेस्टिव सीज़न को ध्यान में रखते हुए अपनी सेडान ‘रेपिड’ का नया अवतार ‘ओनिक्स’ लॉन्च किया है. हालांकि कंपनी ने इस कार की परफॉर्मेंस के साथ कोई छेड़छाड़ नहीं की है. लेकिन ग्राहकों को लुभाने के लिए इस कार के एक्सटिरियर और इंटिरियर में खासे बदलाव किए हैं. इंटीरियर के लिए डुअल टोन एबोनी-सैंड फिनिश और 6.5 इंच के टचस्क्रीन इंफोटेनमेंट सिस्टम समेत एलईडी डीआरएल, प्रोजेक्टर लैंस क्वार्ट्ज कट हेडलाइट, एबीएस के साथ ईबीडी और डुअल एयरबैग इस कार की प्रमुख खूबियों में शुमार हैं. कंपनी ने इस कार के लिए 9.75 लाख रुपए की शुरुआती एक्सशोरूम कीमत तय की है.

अमेरिकन ऑटोमोबाइल कंपनी ‘जीप’ ने भी भारतीय बाज़ार में खास जगह बना चुकी अपनी कॉम्पैक एसयूवी ‘कम्पस’ का नया एडिशन पेश किया है. कंपनी ने इस एडिशन को ‘लिमिटेड प्लस’ नाम दिया है. जीप ने लिमिटेड प्लस को कम्पस के टू व्हील ड्राइव ऑटोमेटिक पेट्रोल वेरिएंट और डीज़ल में टू व्हील के साथ फोर व्हील मैनुअल गियरबॉक्स के साथ उपलब्ध करवाया है. कार में किए गए बड़े बदलावों में पैनोरमिक सनरुफ, ब्लैक और पॉलिश्ड एल्युमिनियम शेड वाले 18 इंच के व्हील और 8.4 इंच की टचस्क्रीन वाला नया यू-कनेक्ट इंफोटेनमेंट सिस्टम शामिल है. कंपनी ने इस एडिशन के लिए शुरुआती कीमत 21.07 लाख रुपए तय की है जो 22.85 लाख रुपए तक जाती है. आप इस कार को पचास हज़ार रुपए की पेशगी यानी एडवांस देकर बुक करा सकते हैं. डिलीवरी अक्टूबर के पहले सप्ताह से पूरे देश में शुरू कर दी जाएगी.

जर्मनी की लग्ज़री कार निर्माता कंपनी ‘मर्सिडीज़ बेंज’ की भारत इकाई ने अपनी सेडान ‘सी-क्लास’ का फेसलिफ्ट्ड वर्ज़न इस सप्ताह बाज़ार में उतार दिया है. कंपनी ने सी-क्लास 2018 को तीन वेरिएंट- सी-220 डी, सी-220 डी प्रोग्रेसिव और टॉप एंड सी-300 डी एएमज़ी में उतारा है. मर्सिडीज़ ने इन तीनो वेरिएंट के लिए क्रमश: 40 लाख, 44 लाख और 48 लाख रुपए की एक्सशोरूम कीमत तय की है. कंपनी ने सी-क्लास को सिर्फ डीज़ल इंजन के साथ ही लॉन्च किया है. ऑटो विशेषज्ञों का कहना है कि नई सी-क्लास शानदार लग्ज़री फील और फीचर्स के साथ एक प्रोग्रेसिव डिज़ायन डायनामिक्स और बेहतरीन सुरक्षा का बेजोड़ संगम है. मर्सिडीज़ बेंच ने नई सी-क्लास को एक नए और ताकतवर बीएस-VI इंजन से लैस किया है.

बेहतरीन डिज़ायन और परफॉर्मेंस वाली कार बनाने के लिए ह्युंडई सम्मानित

दक्षिण कोरिया की ऑटोमोबाइल कंपनी ‘ह्युंडई मोटर्स’ की डिज़ाइनिंग टीम को विश्व की सबसे खूबसूरत कारें बनाने के लिए सम्मानित किया गया है. ह्युंडई को यह सम्मान अमेरिका की मशहूर पत्रिका ‘बिज़नेस वीक’ और उसके सहयोगियों द्वारा आयोजित ‘इंटरनेशनल डिज़ायन एक्सिलेंस अवार्ड्स’ (आईडिया) कार्यक्रम में दिया गया. इस कार्यक्रम में उन संस्थाओं को सम्मानित किया जाता है जिनके व्यवसायिक उत्पाद न सिर्फ दिखने में खूबसूरत होते हैं. बल्कि परफॉर्मेंस के लिहाज़ से भी बेहतरीन होते हैं.

इस कार्यक्रम में ह्युंडई को तीन सिल्वर अवॉर्ड से नवाज़ा गया है. ह्युंडई को ये अवार्ड उसकी लोकप्रिय एसयूवी- सेंटा फी, नेक्सो फ्यूल सेल और कोना के लिए मिले हैं. इसी के साथ ह्युंडई का लग्ज़री ब्रांड ‘जेनेसिस’ लगातार दूसरे वर्ष बेहतरीन डिज़ायन की कारों के निर्माण के लिए अपनी पहचान बनाने में सफल रहा है. बता दें कि ऑटोमोबाइल और ट्रांसपोर्ट के क्षेत्र में ह्युंडई ने पहली बार इस स्तर का सम्मान हासिल किया है.

ह्युंडई सेंटा-फी
ह्युंडई सेंटा-फी

इस अवार्ड के लिए बीस अलग-अलग श्रेणियों के उत्पादों को चुना गया था जिनमें ऑटोमोबाइल और ट्रांसपोर्ट, कंज्यूमर टेक्नोलॉजी और सर्विस से जुड़े उत्पाद शामिल थे. किसी उत्पाद को पुरुस्कृत करने के लिए उसके डिज़ायन, उससे जुड़े उपभोक्ताओं के अनुभव और सामाजिक जिम्मेदारी जैसे मानक तय किए गए थे. इस मौके पर ह्युंडई ने कहा कि इन तीनों ही गाड़ियों ने अपने क्षेत्र का बेहतरीन सम्मान हासिल कर कंपनी के एसयूवी लाइनअप के वर्तमान और भविष्य को स्वर्णिम बना दिया है. कंपनी का यह भी कहना है कि यह सम्मान उसे पहले से बेहतर कारें बनाने के लिए प्रोत्साहित करेगा.

बाज़ार में सर्वाधिक बिकने वाली दस कारों में शीर्ष छह मारुति की

भारतीय ऑटोमोबाइल बाज़ार का प्रतिनिधित्व करने वाली संस्था ‘सोसायटी ऑफ इंडियन ऑटोमोबाइल मैनुफैक्चर्स’ (सिआम) द्वारा ज़ारी किए गए आंकड़ों के मुताबिक अगस्त महीने में सर्वाधिक बिकी कारों में मारुति-सुज़ुकी की हैचबैक ‘ऑल्टो’ शीर्ष पर काबिज़ थी. इस दौरान ऑल्टो की बिक्री का आंकड़ा पिछले साल की 21,521 यूनिट से बढ़कर 22,237 पहुंच गया. पिछले साल यह कार इस मामले में दूसरे पायदान पर थी.

लॉन्च होते ही बाज़ार में छा जाने वाली कंपनी की सेडान ‘डिज़ायर’ 21,990 यूनिट बिक्री के साथ सिआम की सूची में दूसरे नंबर पर है. इस फेहरिस्त में शामिल न सिर्फ पहली और दूसरी बल्कि तीसरी, चौथी, पांचवी और छठवीं कार भी मारुति की ही हैं.

इसी साल लॉन्च हुई नई ‘स्विफ्ट’ 19,115 यूनिट की बिक्री के साथ इस सूची में तीसरा स्थान हासिल करने में सफल रही है. अगस्त माह में सर्वाधिक बिक्री के मामले में मारुति की प्रीमियम फ्लैगशिप ‘नेक्सा’ के तहत बेची जाने वाली हैचबैक ‘बलेनो’ चौथे और मारुति की ‘वैगन-आर’ पांचवें क्रमांक पर रहीं. वहीं कंपनी की कॉम्पैक एसयूवी ‘विटारा ब्रेज़ा’ 13,271 इकाई की बिक्री के साथ इस तालिका में छठवें स्थान पर पैर जमाए हुए है.

मारुति के बाद छोटी कारों में उसकी निकटतम प्रतिद्वंदी ह्युंडई की लोकप्रिय हैचबैक ‘ग्रांड आई-10’ और प्रीमियम हैचबैक ‘एलीट आई-20’ क्रमश: सातवें और आठवें पायदान पर काबिज़ रहीं. वहीं कुछ महीने पहले लॉन्च हुई ‘होंडा’ की कॉम्पैक सेडान ‘अमेज़’ इस सूची में दसवें स्थान तक पहुंचने में सफल रही है.