तेलंगाना विधानसभा के चुनाव नवंबर में कराए जा सकते हैं. डेक्कन क्रॉनिकल ने सूत्रों के हवाले से यह ख़बर दी है. इसके मुताबिक चुनाव आयोग 21 से 26 नवंबर के बीच कोई तारीख़ राज्य के चुनाव के लिए तय कर सकता है.

ख़बर के मुताबिक भारत निर्वाचन आयोग (ईसीआई) की टीम आठ अक्टूबर के बाद से मतदाता सूचियों का ऑडिट शुरू करने वाली है. साथ ही मतदान केंद्र स्तर के अधिकारियों के प्रशिक्षण आदि की व्यवस्था भी देखेगी. इस बाबत आयोग की टीम जल्द ही तेलंगाना के दौरे पर जा सकती है. हालांकि चुनाव तारीख़ों के बारे में अभी आयोग की ओर से औपचारिक तौर पर कुछ नहीं कहा गया है. लेकिन तेलंगाना की सत्ताधारी पार्टी- टीआरएस (तेलंगाना राष्ट्र समिति) के नेतृत्व ने पूरा भरोसा जताया है कि राज्य में 24 नवंबर को चुनाव होने वाले हैं. बताया तो यहां तक जाता है कि पार्टी नेतृत्व ने अपने तमाम उम्मीदवारों को इसी हिसाब से तैयारी रखने को कह दिया है.

ग़ौरतलब है कि टीआरएस प्रमुख और तेलंगाना के फिलहाल कार्यवाहक मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव वास्तु और अंक ज्योतिष आदि पर यकीन रखने वालों में गिने जाते हैं. वे छह के अंक को अपने लिए भाग्यशाली मानते हैं. इसीलिए उन्होंने तेलंगाना विधानसभा भंग करने का फैसला भी छह सितंबर को किया था. इसी आधार पर पार्टी 24 नवंबर को चुनाव की संभावित तारीख़ मानकर तैयारी कर रही है. हालांकि चुनाव आयोग इससे पहले स्पष्ट कर चुका है कि ‘अंक ज्योतिष के आधार पर चुनाव तारीख़ें तय नहीं की जातीं.’ यहां यह भी ध्यान रखने की बात है कि नवंबर में ही मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, राजस्थान, मिज़ोरम जैसे राज्यों में भी चुनाव निर्धारित हैं.