रूस के रक्षा मंत्री सर्गेई शोइगु ने सोमवार को एक बयान जारी करते हुए कहा है कि रूस अपनी अत्याधुनिक मिसाइल सुरक्षा प्रणाली एस-300 सीरिया भेजेगा. पिछले सप्ताह सीरिया में एक रूसी सैन्य विमान को निशाना बनाए जाने के बाद रूस ने यह फैसला लिया है. इस घटना में विमान में मौजूद सभी 15 लोगों की मौत हो गई थी. द टाइम्स ऑफ इंडिया के मुताबिक रूस ने अपना विमान गिराए जाने के लिए इजरायल को जिम्मेदार ठहराया था. रूस का कहना था कि इजरायल के विमानों द्वारा सीरियाई सीमा पर हमला किए जाने के बाद सीरिया ने जवाबी हमला किया था और रूस का सैन्य विमान इस जवाबी हमले की चपेट में गया.

रूस के अधिकारियों का कहना है कि सीरिया में पहले से तैनात एस-200 मिसाइल सुरक्षा तकनीक काफी पुरानी है जो रूस के विमानों की पहचान करने में असमर्थ है. रूस के विदेश मंत्री सर्गेई शोइगु ने अपने बयान में कहा कि रूस नई मिसाइल सुरक्षा प्रणाली एस-300 अगले दो सप्ताह के भीतर सीरिया को भेज देगा. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि सीरिया को एस-300 की आपूर्ति करने से वहां तैनात रूसी सैनिकों को काफी राहत मिलेगी.