इजराइल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने ईरान की राजधानी तेहरान में ‘गुप्त परमाणु भंडार’ होने का दावा किया है. इसके साथ ही उन्होंने अमेरिका द्वारा ईरान पर लगाए गए प्रतिबंधों के खिलाफ जाने और ईरान का समर्थन करने के लिए यूरोप की आलोचना भी की है. इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक गुरुवार को संयुक्त राष्ट्र महासभा को संबोधित करते हुए बेंजामिन नेतन्याहू ने तेहरान का एक मानचित्र दिखाया और दावा किया कि ईरानी अधिकारियों ने यहां एक गोदाम में 15 टन परमाणु ईंधन और इससे संबंधित अन्य सामग्री छिपाकर रखी है. इसके आधार पर प्रधानमंत्री नेतन्याहू ने ईरान पर यह आरोप भी लगाया है कि वह साल 2015 के परमाणु समझौते को नजरअंदाज कर रहा है.

वहीं ईरान की एक समाचार एजेंसी के मुताबिक वहां के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता बहराम क़ासिमी ने इजराइली प्रधानमंत्री के इस दावे को हास्यास्पद बताया है. साथ ही उन्होंने कहा है कि दुनिया उनके इस तरह के झूठे, अर्थहीन और अनावश्यक भाषण और कार्यक्रमों पर हंस रही है.