उत्तर प्रदेश के श्रम मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य अपने एक विवादित बयान के कारण चर्चा में हैं. एनडीटीवी के मुताबिक उत्तर प्रदेश के मैनपुरी में एक समारोह के बाद मीडिया से बातचीत में उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को पागल तक कह दिया. स्वामी प्रसाद मौर्य ने कहा, ‘मोदी जी राहुल की तरह पागल और बच्चे नहीं हैं. संसद चलती है तो राहुल गांधी गायब रहते हैं. जब कभी संसद में आते भी हैं तो आंख मारने जैसी घिनौनी हरकत करते हैं. प्रधानमंत्री की गोदी में बैठने की कोशिश करते हैं. राहुल गांधी बच्चों जैसा बयान दे रहे हैं बच्चे जैसी हरकत कर रहे हैं.’ उनका यह भी कहना था कि राहुल गांधी भारत की सबसे पुरानी राजनीतिक पार्टी की अगुआई करने के लायक नहीं हैं.

स्वामी प्रसाद मौर्य का यह बयान रफाल मामले को लेकर राहुल गांधी द्वारा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर लगातार हमलों के बीच आया है. उन्होंने कहा कि राहुल गांधी लगातार प्रधानमंत्री को चोर कह रहे हैं, लेकिन प्रधानमंत्री की शालीनता देखिए कि वे एक बार भी उनकी इस बचकानी बात पर कोई प्रतिक्रिया नहीं दे रहे. इसके अलावा उन्होंने यह भी कहा कि राहुल गांधी के बयान से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सेहत और भाजपा पर कोई असर नहीं पड़ेगा.

स्वामी प्रसाद मौर्य ने पिछले साल उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव से पहले बहुजन समाज पार्टी (बसपा) का हाथ छोड़कर भारतीय जनता पार्टी का दामन थाम लिया था. उन्होंने बसपा सुप्रीमों मायावती पर आरोप लगाए थे कि वे टिकट देने के लिए भारी-भरकम रकम लेती हैं.