देश की सबसे ज्यादा बिकने वाली कॉम्पैक एसयूवी मारुति-सुज़ुकी ब्रेज़ा को ग्लोबल न्यू कार असेसमेंट प्रोग्राम (एनसीएपी) ने क्रैश टेस्ट में 4-स्टार रेटिंग दी है. एनसीएपी को वैश्विक स्तर पर कारों के लिए सुरक्षा मानक तय करने के लिए पहचाना जाता है. ऐसे में ब्रेज़ा के लिए एनसीएपी की तरफ से 4-स्टार रेटिंग मिलना एक एक बड़ी उपलब्धि मानी जा सकती है. एनसीएपी ने पिछली सीट पर बैठने वाले बच्चों की सुरक्षा के मामले में इस कार को 2-स्टार रेटिंग दी है.

एनसीएपी ने वैश्विन मानदंडों के मुताबिक इस कार को 64 किलोमीटर/घंटा की रफ़्तार से दीवार से टकराया था. इस टेस्ट में एनसीएपी ने पाया कि दुर्घटना की स्थिति में ब्रेज़ा के ड्राइवर और सवारी का सिर, छाती और गर्दन काफी हद तक सुरक्षित रहते हैं. वहीं कार की बॉडी को स्टेबल रेटिंग दी गई है. इसका मतलब समझें तो टकराव की स्थिति में कार की बॉडी काफी स्थिर बनी रही और आगे से टकराने के बाद भी कार का ‘ए-पिलर’ बिल्कुल प्रभावित नहीं हुआ. यानी किसी दुर्घटना के समय इस कार के यात्री खासे सुरक्षित रह सकते हैं. कंपनी का कहना है कि ब्रेज़ा, एंटी ब्रेकिंग सिस्टम (एबीएस) के साथ स्टैंडर्ड तौर पर दिए गए डुअल एयरबैग्स और आईसोफिक्स की वजह से इस टेस्ट के दौरान बेहतर प्रदर्शन करने में सफल रही.

मारुति-सुज़ुकी अपनी कारों की कम मेंटेनेंस और बेहतरीन सर्विस आफ्टर सेल्स के लिए भारतीय ग्राहकों के बीच लोकप्रिय है. लेकिन अभी तक कंपनी की गाड़ियों पर मजबूती के मामले में अपेक्षाकृत कम भरोसा जताया जाता रहा है. जानकारों का कहना है कि ब्रेज़ा का शानदार प्रदर्शन कंपनी को उसकी इस नकारात्मक छवि से बाहर लाने में बेहद मददगार साबित होगा.

फेरारी की नई कारपोर्तोफिनो’ भारत में लॉन्च

लग्ज़री के साथ जबरदस्त रफ़्तार वाली कारें बनाने के लिए पहचानी जाने वाली इटैलियन कंपनी फेरारी ने भारत में अपनी नई कार ‘पोर्तोफिनो’ लॉन्च कर दी है. बताया जा रहा है कि कंपनी ने मछुआरों के एक गांव के नाम पर इस कार को यह नाम दिया है. पोर्तोफिनो कंपनी की दूसरी गाड़ियों की ही तरह जबरदस्त पॉवर और स्टाइल से लैस है. बेहतरीन डिज़ायन वाली इस कार में कन्वर्टिबल यानी खुलने वाली रूफ दी गई है. पोर्तोफिनो के फ्रंट में दिए गए बूमरैंग शेप वाले एलीडी लैंप इसे कंपनी की ही लोकप्रिय कार ‘कैलिफोर्निया-टी’ से भी ज्यादा ख़ूबसूरत बनाते हैं. फेरारी ने पोर्तोफिनो में कार्बन फाइबर के साइड स्कर्ट्स देने के साथ इसके रियर लुक को ट्विन टेल लैंप्स के साथ बिल्कुल फ्रेश अपील देने की कोशिश की है.

एक नज़र कार के केबिन पर डालें तो यहां आपको 10.2-इंच के टचस्क्रीन के साथ फ्रंट पैसेंजर के लिए अलग से दी गई स्क्रीन दिखती है. कार का इंफोटेनमेंट सिस्टम एप्पल कार प्ले को सपोर्ट करता है. इस कार बैठने के लिए 2+2 सीटें दी गई हैं जिनमें दो वयस्क आगे और दो बच्चे पीछे की तरफ बैठ सकते हैं. पोर्तोफिनो में विंड डिफ्लैक्टर डिज़ाइन दिया गया है जिसकी मदद से केबिन में आने वाली हवा को कंपनी की अन्य कारों की तुलना में तीस फीसदी तक घटाने की कोशिश की गई है.

कंपनी का दावा है कि उसने पोर्तोफिनो के निर्माण में बिल्कुल नए चेसी का इस्तेमाल किया है जो पहले की तुलना में 80 किलो हल्का होने के साथ 35 प्रतिशत ज्यादा मजबूत है. परफॉर्मेंस के लिहाज़ से देखें तो फेरारी ने पोर्तोफिनो में कैलिफोर्नियो-टी वाला 3.9-लीटर का ट्विन-टर्बो वी-8 इंजन लगाया है जो 7500 आरपीएम पर 600 बीएचपी की अधिकतम पॉवर के साथ 5250 आरपीएम पर 760 एनएम का टॉर्क उत्पन्न करने में सक्षम है. इसकी मदद से यह कार 0-100 किमी/घंटा की रफ्तार पकड़ने में महज़ 3.5 सेकंड लेने के साथ 320 किमी/घंटा की अधिकतम रफ़्तार पर चलने में सक्षम है. यदि आप इस शानदार कार को घर लाना चाहते हैं तो इसके लिए आपको दिल्ली में कंपनी की डीलरशिप और मुंबई के नवनीत मोटर्स पर जाना होगा. और हां, 3.5 करोड़ रुपए का इंतजाम करना न भूलिएगा.

रॉयल एनफील्ड की सबसे दमदार दो बाइकें लॉन्च

रॉयल एनफील्ड ने अपनी सबसे दमदार दो बाइकों ‘इंटरसैप्टर-650’ और ‘कॉन्टिनेंटल जीटी-650’ को वैश्विक स्तर पर लॉन्च कर दिया है. बाज़ार में लंबे समय से इन बाइकों का इंतजार किया जा रहा था. कंपनी ने यूएस बाजार में इंटरसैप्टर के लिए 5799 डॉलर यानी करीब 4.20 लाख रुपए और कॉन्टीनेंटल जीटी के लिए 5999 डॉलर यानी तकरीबन 4.35 रुपए की शुरुआती कीमत तय की है. इन बाइकों की कीमत इनकी कलर स्कीम के हिसाब से तय की गई है जो अधिकतम 6749 डॉलर यानी 4.90 लाख रुपए तक जाती है.

फीचर्स के लिहाज़ से देखें तो इन बाइकों के फ्रंट व्हील में टेलिस्कोपिक फोर्क व 320 एमएम का डिस्क ब्रेक और रियर व्हील के साथ गैस चार्ज्ड ट्विन शॉक सस्पेंशन व 240 एमएम का डिस्क ब्रेक लगाया गया हैं. दोनों बाइकों के साथ स्टैंडर्ड तौर पर दिया गया एंटी ब्रेकिंग सिस्टम (एबीएस) चलते समय इन्हें बेहतरीन संतुलन देता है.

जैसा कि नाम से स्पष्ट है कंपनी ने इन दोनों बाइकों में 650 (648) सीसी का इंजन दिया है जो एयरकूल्ड, एसओएचसी और फ्यूल इंजेक्टेड पैरेलल-ट्विन जैसी खूबियों से लैस है. यह इंजन 7250 आरपीएम पर 47 बीएचपी की अधिकतम पॉवर के साथ 5250 आरपीएम पर 52 एनएम का पीक टॉर्क पैदा कर सकता है. साथ ही इस इंजन को 6-स्पीड गियरबॉक्स से जोड़ा गया है जो स्लिप-असिस्ट क्लच के साथ आता है. कंपनी का दावा है कि इंटरसैप्टर-650 और कॉन्टिनेंटल जीटी-650 163 किमी/घंटा की रफ़्तार से चलने में सक्षम होने के अलावा कंपनी की अब तक की सबसे तेजरफ्तार बाइक हैं.

कयास लगाए जा रहे हैं कि भारत में भी ये दोनों बाइकें जल्द ही उपलब्ध करा दी जाएंगी. साथ ही इस बात की भी संभावना है कि भारतीय बाज़ार को ध्यान में रखते हुए इन बाइकों की कीमत घटाकर पेश की जा सकती है. जानकारों का कहना है कि भारत में ये देसी दमदार बाइकें बीएमडब्ल्यू जी-310आर, केटीएम 390 ड्यूक और कावासाकी निन्जा-300 को कड़ी टक्कर देंगी.